ताज़ा खबर
 

15वां प्रवासी भारतीय दिवस: वाराणसी में जुटेंगे 130 देशो के प्रवासी मेहमान, स्वागत में 9 राज्यो के CM रहेंगे मौजूद

इस बार 15वें प्रवासी दिवस का आयोजन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी में किया जा रहा है। 21 से 23 जनवरी तक चलने वाले प्रवासी भारतीय दिवस में 7 हजार से ज्यादा प्रवासी भारतीय एकत्रित होंगे।

Author January 11, 2019 7:05 AM
वाराणसी में प्रवासी भारतीय दिवस की तैयारियां फोटो सोर्स- ट्विटर

प्रत्येक वर्ष 9 जनवरी को प्रवासी भारतीय दिवस मनाया जाता है। इस बार 15वें प्रवासी दिवस का आयोजन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी में किया जा रहा है। वाराणसी में पहली बार हो रहे प्रवासी भारतीय सम्मेलन की तैयारियां अंतिम चरण में है। तैयारियों का जायजा लेने बुधवार को एनआरआई राज्यमंत्री स्वाति सिंह वाराणसी पहुंची और कार्यक्रम स्थल का निरीक्षण किया। 21 से 23 जनवरी तक चलने वाले प्रवासी भारतीय दिवस में 7 हजार से ज्यादा प्रवासी भारतीय एकत्रित होंगे। बता दें कि 9 जनवरी को महात्मा गांधी दक्षिण अफ्रीका से स्वदेश लौटे थे जिस कारण इस दिन को प्रवासी भारतीय दिवस के रूप में मनाया जाता है।

प्रवासी भारतीय दिवस की तैयारियों को अंतिम रूप देने के लिए उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ के अलावा विदेश मंत्रालय और राज्य के प्रशासनिक अमले की टीम भी वाराणसी पहुंची। बता दें कि 15 जनवरी से यह टीम तैयारियों की निगरानी के लिए कैंप करेगी। 130 देशो से आ रहे प्रवासी मेहमानों का स्वागत 9 राज्यो के मुख्यमंत्री समेत कई आलाधिकारी करेंगे। साथ ही मेहमानों के सम्मान के लिए राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद भी मौजूद होंगे। अतिथियों का स्वागत करने में उत्तर प्रदेश के अलावा गुजरात, महाराष्ट्र, झारखंड, हरियाणा, हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड, गोवा, त्रिपुरा के मुख्यमंत्री और वरिष्ठ अधिकारियों समेत राज्यपाल राम नाईक और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भी सम्मेलन में मौजूद होंगे।

जिला प्रशासन द्वारा की गई बैठक में तय किया गया कि प्रवासी मेहमानों को गंगा आरती, काशी विश्वनाथ मंदिर और सारनाथ के भ्रमण की व्यवस्था कराई जाएगी। अन्य जगहों पर जाने वाले मेहमानों को भी सुविधाएं प्रदान की जाएंगी। कमिश्नर दीपक अग्रवाल ने बताया कि विदेश मंत्रालय की ओर से गठित छह सदस्यीय टीम प्रवासी सम्मेलन की तैयारियों की निगरानी करेगी साथ ही बैठक में तय हुए बिंदुओं पर काम शुरू कर दिया गया है।

अस्थाई टेंट सिटी का निर्माण- प्रवासी भारतीय दिवस के मद्देनजर पीएम मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी में एक अस्थाई टेंट सिटी का निर्माण किया गया है। 43 हेक्टेयर में फैले ‘टेंट सिटी’ में 1,480 प्रवासी भारतीय निवास करेंगे। बता दें कि वाराणसी के ऐढे़ गांव में बन रहें ‘टेंट सिटी’ में वीआईपी होटल जैसी सुविधाएं उपलब्‍ध होंगी। इस दौरान मेहमानों के स्‍वागत मेें 100 करोड़ से भी ज्यादा रुपये खर्च होंगे। इस टेंट सिटी में सांस्‍कृतिक राजधानी के कई रंग देखने को मिलेंगे। टेंट सिटी के झोपड़ीनुमा कॉटेज में रहने वाले मेहमानों को वाराणसी जायके के साथ कॉन्टिनेंटल व्यंजन भी परोसेने की व्यवस्था है साथ ही पूर्वांचल के खास व्‍यंजन भी मेन्यू में रखे जाएंगे।

उत्तर प्रदेश की एनआरआई राज्यमंत्री स्वाति सिंह ने प्रवासी सम्मेलन से जुड़े कामों को पूरा करने के लिए 15 जनवरी की समयसीमा तय की है। राज्यमंत्री के मुताबिक फिनिशिंग और खामियों को चिह्नित कर उन्हें ठीक करने का काम किया जाए। जिसके लिए कार्यदायी संस्थाओं को कर्मचारियों की संख्या बढ़ाने के साथ ही रात में भी काम करने का निर्देश दिया गया।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App