ताज़ा खबर
 

‘मोदी तेरे राज में कानून का कोई काम नहीं!’ लाइव मर्डर का वीडियो वायरल

घर वालों ने वीडियो देखने के बाद पुलिस में शिकायत दी थी। लेकिन मामला दिल्ली का बता कर पुलिस ने परिजन को टरका दिया था। कहा था कि दिल्ली में शख्स की गुमशुद्गी दर्ज है। मृतक आठ महीने पहले वह मजदूरी करने के लिए दिल्ली गया था। उसकी हत्या से जुड़े वायरल वीडियो के पहले तक उसके बारे में किसी को कोई खबर नहीं थी।

लाइव मर्डर से जुड़ा यह वीडियो वॉट्सएप के जरिए परिजन तक पहुंचा था। (फाइल फोटो)

उत्तर प्रदेश में दिनदहाड़े कुल्हाड़ी से हमला कर एक शख्स की हत्या कर दी गई। वारदात के दौरान हत्यारों ने वीडियो भी बनाया था। बाद में उसके लाइव मर्डर की क्लिप सोशल मीडिया पर वायरल कर दी। यह क्लिप वायरल होते-होते जब मृतक के घर वालों के पास पहुंची, तो उनके पैरों तले जमीन खिसक गई थी। वे इसके आधार पर पुलिस में शिकायत देने गए लेकिन सुनवाई नहीं हुई।

मीडिया में मामला सामने आने पर बाद में पुलिस पर दबाव बना, जिसके बाद पुलिस ने इस मामले में अज्ञात के खिलाफ मामला दर्ज किया है। वीडियो क्लिप में पीट-पीटकर शख्स की हत्या करते दिखाया गया है। साथ ही लिखा है, “मोदी तेरे राज में कानून का कोई काम नहीं है।”

रोंगटे खड़े करने वाला यह मामला संभल जिले से जुड़ा है। चंदौसी के गांव पतरौआ में बंटी अपने परिवार के साथ रहते हैं। उनको यह क्लिप वॉट्सएप पर अज्ञात मोबाइल नंबर से भेजी गई थी। वीडियो गौर से देखने पर उसे चेहरा जाना-पहचाना लगा, जिसके बाद उसे मालूम पड़ा कि पिट रहा शख्स उसका भाई था।

HOT DEALS
  • Micromax Dual 4 E4816 Grey
    ₹ 11978 MRP ₹ 19999 -40%
    ₹1198 Cashback
  • Honor 8 32GB Pearl White
    ₹ 14210 MRP ₹ 30000 -53%
    ₹1500 Cashback

वायरल वीडियो क्लिप में एक शख्स को कुछ लोग बुरी तरह पीट रहे थे। आगे एक हमलावर ने उसकी गर्दन पर कुल्हाड़ी से चार-पांच बार हमला किया था। शख्स आरोपियों के सामने रहम की भीख मांगता रहा, लेकिन उन्होंने उस पर तरस नहीं खाया।

घर वालों ने वीडियो देखने के बाद पुलिस में शिकायत दी थी। लेकिन मामला दिल्ली का बता कर पुलिस ने परिजन को टरका दिया था। कहा था कि दिल्ली में शख्स की गुमशुद्गी दर्ज है। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, मृतक का नाम अजब सिंह था। आठ महीने पहले वह मजदूरी करने के लिए दिल्ली गया था। उसकी हत्या से जुड़े वायरल वीडियो के पहले तक उसके बारे में किसी को कोई खबर नहीं थी।

चार दिन पहले इसी मामले में पुलिस ने शिकायत लेने से मना कर दिया था। मगर मीडिया के जरिए मामला सामने आने पर सीओ चंदौसी ओमकार सिंह ने तहरीर ली है और उचित कार्रवाई का आश्वासन दिया है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App