पीएम मोदी कल पहुंचेंगे प्रयागराज, गंगा पूजन के बाद करेंगे 3500 करोड़ की योजनाओं का लोकार्पण

प्रयागराज में अगले महीने होने वाले महाकुंभ के मद्देनजर पीएम नरेंद्र मोदी का दौरा रविवार को है। मोदी यहां गंगा पूजन करेंगे उनके साथ उत्तरप्रदेश के राज्यपाल राम नाईक, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्या और तेरह अखाड़ों के प्रतिनिधि भी मौजूद रहेंगे।

प्रयागराज महाकुंभ 2019 फोटो सोर्स- ट्विटर

उत्तरप्रदेश के प्रयाग में अगले महीने महाकुंभ-2019 शुरू होने जा रहा है। जिसके चलते देश के कोने-कोने से लोगों का यहां आना शुरू होगा। इसी क्रम में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी रविवार को प्रयागराज आ रहे है। वे यहां गंगा पूजन करके महाआरती करेंगे। इस दौरान वे करीब 3500 करोड़ के कार्यों का लोकार्पण भी करेंगे। प्रधानमंत्री के आगमन को लेकर शहर में तैयारियां जोरों पर चल रही हैं। रेलवे बोर्ड भी प्रयाग के आस-पास के स्टेशनों के विकास व यात्री सुविधाओं पर करीब 700 करोड़ रुपये खर्च कर रहा है। रेलवे महाकुंभ को लेकर रेलवे 800 स्पेशल ट्रेन चलाने जा रहा है। पीएम मोदी रविवार को सोनिया गांधी के गढ़ रायबरेली में एक कार्यक्रम में भी शामिल होंगे। इसके बाद तीन हेलीकॉप्टर के काफिले से 11.35 बजे प्रयागराज के लिए उड़ान भरेंगे।

प्रयागराज में अगले महीने होने वाले महाकुंभ के मद्देनजर पीएम नरेंद्र मोदी का दौरा रविवार को है। मोदी यहां गंगा पूजन करेंगे उनके साथ उत्तरप्रदेश के राज्यपाल राम नाईक, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्या और तेरह अखाड़ों के प्रतिनिधि भी मौजूद रहेंगे। पीएम मोदी इस दौरान प्रसिद्ध बड़े हनुमान जी का भी दर्शन और पूजन करेंगे। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रयागराज में महाकुंभ के मद्देनजर ने साधु-संतों की संस्था अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत नरेंद्र गिरी के साथ एक बैठक की थी।

इस दौरान उन्होंने कहा कि भव्य महाकुंभ के लिए दिसंबर तक सभी तैयारियां पूरी कर ली जाएँगी। पीएम मोदी 16 दिसंबर को प्रायगराज में केंद्र और राज्य सरकार की ओर से कराये जा रहे करीब 3500 करोड़ के विकास कार्यों का लोकार्पण भी करेंगे। इसके अलावा पीएम की झूंसी के अंदावा में जनसभा होगी। इस दौरान पीएम मोदी कुछ बड़ी परियोजनाओं की आधारशिला भी रखेंगे।

उत्तरप्रदेश के डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्या के अनुसार पीएम मोदी अपने दौरे में कुंभ मेले के नियंत्रण के लिए नवनिर्मित इन्टीग्रेटेड कमांड कन्ट्रोल सेन्टर और हवाई सेवा के विस्तार के लिए नवनिर्मित सिविल एयरपोर्ट टर्मिनल का लोकार्पण करेंगे। गौरतलब है प्रयाग में महाकुंभ के चलते लाखों श्रद्धालु यहां आएंगे। महाकुंभ के मद्देनजर प्रयागघाट, फाफामऊ, नैनी, सूवेदारगंज, इलाहबाद जंक्शन, रामबाग, दारागंज आदि स्टेशनों का कायाकल्प होना है। पेंट माय सिटी के तहत प्रयाग शहर और अन्य रेलवे स्टेशनों पर वाल पेंटिंग के जरिये उत्तर से लेकर दक्षिण और पूरब से लेकर पश्चिम को एक सूत्र में बांधने की कोशिश की जाएगी।

रेलवे बोर्ड इन स्टेशनों के विकास व यात्री सुविधाओं पर करीब 700 करोड़ रुपये खर्च कर रहा है। महाकुंभ को लेकर रेलवे 800 स्पेशल ट्रेन भी चलाने जा रहा है। इसमें 622 मेला स्पेशल ट्रेनें अकेले उत्तर मध्य रेलवे, इलाहाबाद जोन की होंगी। बता दें कि एनसीआर ने रेलवे बोर्ड से 622 ट्रेनों के लिए 1400 कोच मांगे हैं। यह स्पेशल ट्रेनें 20 कोच की होंगी। मेले को देखते हुए रेलवे 13 जनवरी से छह मार्च तक यह व्यवस्थाएं जारी रखेगा। इसके अलावा स्टेशनों के निकट पांच आश्रय घर भी बनाये गए है। इलाहबाद में चार और नैनी में एक बनाया गया है। इन आश्रय घरो में करीब पचास हजार श्रद्धालु एक साथ रुक सकते है।

पढें राज्य समाचार (Rajya News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट