ताज़ा खबर
 

बेटा स्कूल नहीं गया, तो बाप जाएगा जेल: राजभर

पिछड़ा वर्ग कल्याण विभाग के मंत्री ओम प्रकाश राजभर ने कहा है कि प्राथमिक विद्यालयों के बच्चे पहले होमगार्ड वाली वर्दी पहनकर विद्यालय जाते थे।

Author गोंडा | October 30, 2017 12:50 AM
पिछड़ा वर्ग कल्याण विभाग के मंत्री ओम प्रकाश राजभर

पिछड़ा वर्ग कल्याण विभाग के मंत्री ओम प्रकाश राजभर ने कहा है कि प्राथमिक विद्यालयों के बच्चे पहले होमगार्ड वाली वर्दी पहनकर विद्यालय जाते थे। उसे उतरवा कर मैंने सुंदर ड्रेस पहनाया। अगले माह तक उन्हें जूता, मोजा और स्वेटर भी मिल जाएगा। इसके बाद भी अगर किसी ने अपने बच्चे को पढ़ने के लिए विद्यालय नहीं भेजा तो उसे जेल भिजवाने की तैयारी भी कर रहा हूं। राजभर पहले भी इसी आशय का बयान दे चुके हैं। वह शनिवार की शाम जिला मुख्यालय से करीब 40 किमी. दूर कर्नलगंज तहसील के गौरा सिंहपुर में पार्टी (सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी )की ओर से आयोजित एक कार्यक्रम में बोल रहे थे। राजभर ने कहा कि गरीबी क्या होती है, मुझसे अच्छा कोई नहीं जानता। इसलिए मुझे जब मंत्री बनकर जनता की सेवा करने का मौका मिला तो मैंने गरीबों के बारे सोचना शुरू किया।

उन्होंने लोगों से कहा कि कहा कि जब तक आपके बच्चे शिक्षित नहीं होंगे, आपका विकास नहीं होगा। इसलिए अपने आस-पड़ोस वाले लोगों को समझाए। वे अपने बच्चों को विद्यालय जरूर भेजें। यदि उनकी वजह से उनका बच्चा विद्यालय नहीं जाएगा, तो फिर उन्हें जेल जाना पड़ेगा। हम इसकी तैयारी में जुटे हुए हैं।

उन्होंने कहा कि योगी सरकार में गरीबों का कोई कार्य बाकी नहीं रहेगा। अगर कोई अधिकारी आपके काम में आनाकानी करता है, तो मुझे बताइए। राजभर ने कहा कि देश में दो तरह के लोग रहते हैं। एक चतुर और एक बुधुआ। मैं बुधुआ गोल का व्यक्ति शासन में पहुंच गया हूं। इसलिए अब चतुर के ही नहीं, बुधुआ गोल के लोगों के भी सभी कार्य होंगे। क्षेत्र में इंटर कॉलेज की मांग पर उन्होंने कहा कि जमीन की व्यवस्था आप लोग कीजिए, राजकीय इंटर कालेज हम बनवा देंगे। कार्यक्रम की अध्यक्षता रामपाल राजभर व संचालन विजय कुमार ने किया। सभा को विजय गौड़, जय नरायन, महेश गुप्ता, राम विलास, दिनेश राजभर, रमेश निषाद, अंगद राय आदि ने भी संबोधित किया।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App