ताज़ा खबर
 

यूपी: कमर में पिस्तौल खोंस छात्रों को करा रहे नकल, वीडियो वायरल

यह आलम तब है, जब बीते दिनों सूबे के डिप्टी-सीएम ने नकलविहीन परीक्षा कराने की बात कही थी। ऐसे में, यह युवक राज्य सरकार के सभी दावों की और परीक्षा केंद्र पर नियमों की धज्जियां उड़ाता नजर दिख रहा था। बाद में घटना से जुड़ा एक वीडियो भी सामने आया है, जो सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म्स पर तेजी से वायरल हो रहा है।

आगरा के बिचपुरी रोड स्थित श्री कृष्ण कॉलेज में एक अज्ञात युवक पिस्तौल खोंस कर घूम रहा था। (फोटोः यूट्यब)

नकलविहीन परीक्षा के दावे योगी आदित्यनाथ के राज में पूरी तरह से फुस्स साबित होते दिख रहे हैं। हाल ही में नकल से जुड़ा चौंकाने वाला मामला सामने आया है। कॉलेज में अनजान युवक पिस्तौल के बलबूते नकल करा रहा था। परीक्षा केंद्र में वह कमर में पिस्तौल खोंसकर घूम रहा था, जबकि छात्र-छात्राएं दरी पर बैठकर परीक्षा दे रहे थे। यह आलम तब है, जब बीते दिनों सूबे के डिप्टी-सीएम ने नकलविहीन परीक्षा कराने की बात कही थी। ऐसे में, यह युवक राज्य सरकार के सभी दावों की और परीक्षा केंद्र पर नियमों की धज्जियां उड़ाता नजर आ रहा था। बाद में घटना से जुड़ा एक वीडियो भी सामने आया है, जो सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म्स पर तेजी से वायरल हो रहा है। आपको बता दें कि बीते दिनों दिनेश शर्मा आगरा पहुंचे थे। उन्होंने तब कहा था कि राज्य में नकलविहीन परीक्षाओं का आयोजन कराया जाएगा।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, नकल से जुड़ा यह मामला आगरा के भीमराव अंबेडकर विश्वविद्यालय का है। बिचपुरी रोड के श्रीकृष्ण कॉलेज में बीए प्रथम वर्ष की परीक्षा चल रही थी। परीक्षा केंद्र के भीतर पीले रंग की कमीज में एक युवक घूम रहा था। उसने अपनी कमर में पिस्तौल खोंस रखी थी और वह छात्रों को नकल करा रहा था।

वहीं, परीक्षा के दौरान कक्षा से निरीक्षक भी गायब थे। थोड़ी देर बाद इस बारे में शिवसेना के जिला प्रमुख वीनू लवानिया को जानकारी मिली। वह मौके पर पहुंचे और उन्होंने घटना की रिकॉर्डिंग कर ली। बाद में जब यह क्लिप इंटरनेट पर वायरल हुई तो मामला वि.वि. के कुलपति (वीसी) तक पहुंचा। वी.सी डॉ.अरविंद दीक्षित ने इस बारे में कहा, “हमें वीडियो मिला है। हम जांच करा रहे हैं। जिला प्रसाशन के जरिए कॉलेज में फोर्स भेजेंगे। जमीन पर बच्चे बैठे दिख रहे हैं। ऐसे कॉलेजों की मान्यता को लेकर भी कार्रवाई होगी।”

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App