ताज़ा खबर
 

यूपी: बुलंदशहर में फिर दिखी हैवायिनत, पुरुष को पेड़ से उल्‍टा लटका कर की पिटाई

यह जिले में इस प्रकार की पहली घटना नहीं है। इससे कुछ दिनों पहले एक महिला की पिटाई की क्लिप सामने आई थी, जिसमें एक शख्स और अन्य लोग पेड़ से महिला को बांध कर उसकी सरेराह पिटाई कर रहे थे। वीडियो सामने आने के बाद वह मामला पुलिस में पहुंचा था।

पंचायत के फरमान के बाद शख्स को पेड़ पर उल्टा लटकार बेल्ट से पीटता युवक।

योगी आदित्यनाथ के राज में उत्तर प्रदेश में फिर से हैवानियत दर्शाने वाले दो वीडियो सामने आए हैं। ये दोनों ही घटनाएं जिला बुलंदशहर की है। पहले मामले में एक युवक को पेड़ से उल्टा लटकाकर बेल्ट से बुरी तरह पीटा गया, जबकि दूसरे वीडियो में एक महिला पर लाठियां भांजी जा रही थीं। यह जिले में इस प्रकार की पहली घटना नहीं है। इससे कुछ दिनों पहले एक महिला की पिटाई की क्लिप सामने आई थी, जिसमें एक शख्स और अन्य लोग पेड़ से महिला को बांध कर उसकी सरेराह पिटाई कर रहे थे। वीडियो सामने आने के बाद वह मामला पुलिस में पहुंचा था।

ताजा मामवा स्याना थाना क्षेत्र का बताया जा रहा है। पंचायत के निर्देश पर शख्स को पेड़ से उल्टा लटकाया गया था। फिर उसकी बेल्ट से पिटाई की गई। पिटाई के दौरान वह जोर-जोर से मदद के लिए चिल्ला रहा था। मगर किसी ने उसकी सहायता न की।

वीडियो में पिटने वाले शख्स के बारे में कहा जा रहा है कि वह बीते दिनों गांव की एक महिला को लेकर भाग गया था। पांच दिनों के बाद गांव के लोग उसे व उस महिला को पकड़ कर वापस गांव लेकर आए थे। शख्स की पहचान धर्मेंद्र के रूप में हुई है।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, युवक को पेड़ पर सुबह सात बजे बांधा गया था। तभी उसकी पिटाई भी शुरू की गई थी, जो कि दोपहर दो बजे तक चली। इस दौरान उस पर जमकर बेल्ट और लाठियां बरसाई गईं।

वहीं, महिला ने आरोप लगाया है कि पिटाई के बाद कुछ लोग उसके घर के भीतर घुस आए थे और उसका शोषण करने लगे। उन्होंने उसे वेश्या कहा था। पीड़िता के अनुसार, उसे धमकी मिली है कि अगर उसने किसी से कुछ रहा तो उसे जान से मार दिया जाएगा।

महिला की पिटाई से जुड़ी क्लिप 22 मार्च को सामने आई थी, जिसके बाद लोगों को घटना के बारे में पता लगा था। मगर उसके प्रेमी धर्मेंद्र की पिटाई की क्लिप अब वायरल हुई है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App