ताज़ा खबर
 

यूपी: अपने ही 6 साल के बेटे को कर लिया अगवा! वजह जान रह जाएंगे हैरान

बुधवार को दानवीर पुलिस के पास अनुज के गुम होने की शिकायत लेकर पहुंचे थे। बहाना बनाते हुए कहा कि उनके पास अपहरणकर्ताओं का फोन आया था, वे बच्चा देने के बदले 15 लाख रुपए मांग रहे थे। जानकारी पर हरकत में आई पुलिस ने अपहरणकर्ता की उस कॉल का ब्यौरा निकलवाया और आगे जांच की कहानी तो कुछ और ही निकली।

अलीगढ़ पुलिस की हिरासत में आरोपी दानवीर। (फोटोः ANI)

उत्तर प्रदेश के एक शख्स ने अपने ही छह साल के बेटे को अगवा कर लिया। बच्चे के लापता होने के बाद घर के बाकी सदस्य बेहद परेशान थे। उन्होंने पुलिस में बच्चे के गुम होने की शिकायत दी थी, जिसके बाद पुलिस ने मामले का भंडाफोड़ किया। मामले की सच्चाई सामने आने पर पुलिस के साथ हर कोई हैरान रह गया। गुरुवार (सात जून) को आरोपी को पुलिस ने इस मामले में 24 घंटे बाद गिरफ्तार किया। साथ ही मासूम को सकुशल घर वालों के हवाले कर दिया।

यह मामला अलीगढ़ के ताहरपुर गांव का है। किसान दानवीर शर्मा यहां सपरिवार रहते हैं। पुलिस पूछताछ में बताया कि उन्होंने गांव में कई लोगों से उन्होंने पैसे लिए थे। तकरीबन 12 लाख रुपए का कर्ज हो चुका था। ऐसे में उन्होंने लोगों की सहानुभूति पाने के लिए अपने ही बेटे अनुज को अगवा करने की साजिश रची थी, ताकि गांव वाले उससे उधार दिए गए पैसे वापस न मांगे। वह लोगों का ध्यान कर्ज से भटकाना चाहते थे।

बुधवार को दानवीर पुलिस के पास अनुज के गुम होने की शिकायत लेकर पहुंचे थे। बहाना बनाते हुए कहा कि उनके पास अपहरणकर्ताओं का फोन आया था, वे बच्चा देने के बदले 15 लाख रुपए मांग रहे थे। जानकारी पर हरकत में आई पुलिस ने अपहरणकर्ता की उस कॉल का ब्यौरा निकलवाया और आगे जांच की तो कहानी कुछ और ही निकली।

पुलिस को पता लगा कि दानवीर ने ही बेटे को अगवा किया, जिसमें पत्नी ममता, रामेश्वर नाम का एक ट्रैक्टर ड्राइवर और उसका बेटा राजीव शामिल थे। अपहरण की बात सच लगे इसलिए, दानवीर ने रामेश्वर के जरिए अनुज को अपने दामाद लोकेश के घर पहुंचवा दिया था, जो गाजियाबाद के लोनी बॉर्डर पर हाजीपुर बेहटा गांव में रहते हैं।

वारदात में दानवीर ने पांच फर्जी आईडी से लिए गए सिम इस्तेमाल किए। पुलिस ने कहा कि सभी आरोपियों पर भारतीय दंड संहिता (आईपीसी) की धारा 364 ए के तहत मामला दर्ज किया गया है। आरोपी को सिम बेचने वाले दुकानदार पर भी धोखाधड़ी का मामला दर्ज होगा।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App