ताज़ा खबर
 

मुलायम का चरखा दांव: दोपहर में भाई के यहां, निकलते ही पहुंचे सपा कार्यालय

भाई व बेटे दोनों के मंच पर पहुंचे सपा संरक्षक मुलायम सिंह यादव। सुबह में भाई शिवपाल के कार्यक्रम में मौजूद नजर आये तो कुछ देर बाद, बेटे अखिलेश के साथ सपा कार्यालय में मंच साझा करते हुए नजर आये।

Author लखनऊ | Updated: October 31, 2018 10:17 AM
अखिलेश यादव, शिवपाल यादव व सपा सुप्रीमो मुलायम सिंह यादव। (फाइल फोटो)

समाजवादी पार्टी के संरक्षक व पूर्व मुख्यमंत्री मुलायम सिंह यादव अपने भातृप्रेम के साथ-साथ पुत्रप्रेम भी बराबर निभा रहे हैं। मंगलवार को इसी का एक नमूना देखने को मिला। सुबह में मुलायम अपने छोटे भाई शिवपाल सिंह यादव की नवगठित प्रगतिशील समाजवादी पार्टी (लोहिया) के कार्यकर्ता सम्मेलन में हिस्सा लेने के लिए शिवपाल के सरकारी आवास 6, लालबहादुर शास्त्री मार्ग स्थित पार्टी कार्यालय पहुंचे। मुलायम इसके बाद समाजवादी पार्टी कार्यालय भी गए और अपने बेटे व सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश से मुलाकात के बाद कार्यकर्ताओं को संबोधित किया। दोनों ही जगहों पर मुलायम ने कार्यकर्ताओं से महिला, युवा, गरीब व किसानों का सम्मान करने की बात कही।

मुलायम इससे पहले, सुबह में शिवपाल यादव की नवगठित पार्टी के कार्यकर्ता सम्मेलन में हिस्सा लेने के लिए उनके सरकारी आवास स्थित पार्टी कार्यालय पहुंचे। मुलायम का मंच पर मौजूद शिवपाल समेत दर्जनभर नेताओं ने माल्यार्पण कर जोरदार स्वागत किया। शिवपाल ने कहा कि नेताजी (मुलायम सिंह) से तीन बार इजाजत लेकर अपनी पार्टी बनाई है। लोहियावादी, गांधीवादी लोगों को जोड़कर प्रगतिशील समाजवादी पार्टी को आगे बढ़ाएंगे। उन्होंने कहा, “हम नेताजी की नीतियों को आगे बढ़ा रहे हैं। मुलायम सिंह यादव को मैनपुरी से चुनाव लड़ने का ऑफर दिया है और नेताजी हम लोगों के प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार हैं।”

शिवपाल ने कहा, “हमने नेताजी को नवगठित पार्टी का राष्ट्रीय अध्यक्ष बनने का न्योता दिया है। उम्मीद है कि वह अस्वीकार नहीं करेंगे। नेताजी ने कहा है कि राष्ट्रीय सम्मेलन बुलाइए, इसलिए 9 दिसंबर को हम एक संयुक्त रैली करना चाहते हैं।”

वहीं कार्यकताओं को संबोधित करते हुए मुलायम ने महिलाओं के सम्मान की बात कही। उन्होंने कहा कि महिला, युवा, गरीब व किसानों का सम्मान करो। अन्याय का नहीं, न्याय का साथ दो। इस बीच मुलायम कह गए कि समाजवादी पार्टी महिलाओं का सम्मान करती है। इस पर शिवपाल ने उन्हें अपनी नई पार्टी का नाम बताया। जिस पर कक्ष में हंसी की फुहार फैल गई।

शिवपाल के कार्यक्रम से निकलकर मुलायम समाजवादी पार्टी कार्यालय गए। यहां उन्होंने अपने बेटे व सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश से मुलाकात के बाद कार्यकर्ताओं को संबोधित किया। मुलायम ने कहा, “आप लोग पार्टी की नीतियों को जनता तक पहुंचाएं। सपा सरकार के समय हुए विकास कार्यो की जानकारी लोगों को दें।” उन्होंने कहा कि पार्टी में हर स्तर पर महिलाओं को आगे लाने की जरूरत है। महाभारत की द्रोपदी का उदाहरण देते हुए मुलायम ने कहा, “द्रोपदी ने अन्याय के खिलाफ संघर्ष किया। आप लोग भी महिला के खिलाफ हो रहे अन्याय के खिलाफ संघर्ष करे। कार्यक्रम में सपा प्रदेश अध्यक्ष नरेश उत्तम पटेल, पूर्व मंत्री दुर्गा प्रसाद यादव, नारद राय समेत बड़ी संख्या में कार्यकर्ता व नेता मौजूद रहे।”

Next Stories
1 भाजपा पर मतदाता सूची से लाखों नाम कटवाने का आरोप
2 प्रदूषण ने तोड़े सारे रिकॉर्ड, लागू हो सकता है सम-विषम
3 पश्चिम बंगाल: माटी कहे कुम्हार से, अब यह धंधा छोड़
Coronavirus LIVE:
X