ताज़ा खबर
 

उत्तर प्रदेशः अब एक करोड़ फिरौती को गोरखपुर से किडनैपिंग कर स्टूडेंट का मर्डर, अखिलेश बोले- नहीं चाहिए BJP; प्रियंका बोलीं- बढ़ रहा जंगलराज

समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने ट्वीट कर लिखा "गोरखपुर से अपहृत बच्चे की हत्या का समाचार बेहद दर्दनाक व दुखद है। शोकाकुल परिवार के प्रति गहरी संवेदना। लगातार अपहरण और हत्याओं के बावजूद भी भाजपा सरकार का निर्लज्ज मौन और निष्क्रियता प्रश्नचिन्ह के घेरे में है।"

छात्र की हत्या पर कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी और सपा नेता अखिलेश यादव ने सवाल उठाए। (एक्सप्रेस फोटो)

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की कर्मभूमि गोरखपुर में एक छात्र का अपहरण कर उसकी हत्या कर दी गई है। बच्चे को अगवा कर एक करोड़ रुपये की फिरौती मांगी गई थी। बच्चे की तलाश कर रही पिपराइच पुलिस और क्राइम ब्रांच को तिनकोनिया नंबर दो में केवटहिया नाले के पास शव मिला है। इस घटना के बाद विपक्ष ने योगी सरकार पर निशाना साधा शुरू कर दिया है।

समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने इसपर ट्वीट कर लिखा “गोरखपुर से अपहृत बच्चे की हत्या का समाचार बेहद दर्दनाक व दुखद है। शोकाकुल परिवार के प्रति गहरी संवेदना। लगातार अपहरण और हत्याओं के बावजूद भी भाजपा सरकार का निर्लज्ज मौन और निष्क्रियता प्रश्नचिन्ह के घेरे में है। #नहीं_चाहिए_भाजपा” बच्चे की मौत पर कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने भी ट्वीट किया है। प्रियंका ने लिखा “क्या यूपी के मुखिया ने खबरें देखना छोड़ दिया है? क्या गृह विभाग में बैठे लोगों के सामने ये खबरें नहीं जाती? यूपी में हर दिन गुंडाराज के नए रिकॉर्ड बन रहे हैं। सीएम के गृहक्षेत्र में अपहरण की घटना घटी है। कासगंज में हत्याकांड। लेकिन दिखावे के लिए कुछ ट्रांसफर के अलावा और कुछ होता ही नहीं है। जंगलराज बढ़ता जा रहा है।”

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक गोरखपुर के एक पान विक्रेता के बेटे का 26 जुलाई को अपहरण कर लिया था। अपहरणकर्ताओं ने पान विक्रेता से एक करोड़ की फिरौती मांगी थी। मुख्यमंत्री की कर्म भूमि में अपहरण की घटना सामने आने पर हरकत में आई पुलिस ने बच्चे की बरामदगी के लिए कई टीमें गठित कर दीं। बच्चे को अपहर्ताओं के चंगुल से मुक्त कराने के लिए एसटीएफ को भी एक्टिव कर दिया गया। लेकिन बच्चा नहीं मिला। इस संबंध में चार लोगों को हैरत में लिया गया था। उन्‍हीं की निशानदेही पर शव बरामद किया गया।

पुलिस के मुताबिक रविवार की शाम 5 बजे के आसपास बच्चे की हत्या कर दिए जाने की आशंका है। एसएसपी डॉ. सुनील गुप्ता ने बताया कि बच्चे की पिता के पास आए नम्बर को ट्रेस कर जांच की जा रही है। साथ ही अपहरणकर्ताओं की गिरफ्तारी के लिए एसटीएफ, क्राइम ब्रांच और पुलिस की टीम को लगा दिया गया है। जल्द इस घटना का पर्दाफाश किया जाएगा।

Next Stories
1 राजस्थानः क्या राज्यपाल बार-बार ठुकरा सकते हैं विधानसभा सत्र बुलाने का प्रस्ताव, जानें क्या हैं संवैधानिक प्रावधान
2 राजस्थान में जारी है सरकार-राजभवन में टकराव, गहलोत को नहीं मिली विधानसभा सत्र बुलाने की मंजूरी
3 राजस्थानः राजनीतिक संकट के बीच संगीत की धुन पर ताली बजाने लगे CM अशोक गहलोत, देखें VIDEO
ये पढ़ा क्या?
X