ताज़ा खबर
 

चाचा ने भतीजी और उसके प्रेमी को डंडों से पीटा, पिता ने दोनों को कुल्हाड़ी से काटा, बेटे को कटता देख रहम की भीख मांगते रहे बेबस मां-बांप

पुलिस ने मौके पर पहुंचकर आरोपी को गिरफ्तार कर कुल्हाड़ी बरामद की है। मौके पर पहुंची फॉरेंसिक टीम और पुलिस ने घटना स्थल का निरीक्षण किया और दोनों शवों को कब्जे में लेकर पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया है।

तस्वीर का इस्तेमाल सिर्फ प्रस्तुतिकरण के लिए किया गया है। (फोटोः Freepik)

उत्तर प्रदेश के कानपुर जिले से ऑनर किलिंग की एक दिल दहला देने वाली घटना सामने आई है। घाटमपुर कोतवाली क्षेत्र के बिराहिनपुर गांव में शनिवार सुबह एक पिता ने आने भाइयों के साथ मिलकर नाबालिग बेटी और उसके प्रेमी को बंधक बनाकर पीटा और फिर कुल्हाड़ी से काट दिया।

इस घटना के बाद पूरे गांव में दहशत का माहौल है। हत्या करने के बाद लड़की का पिता लाशों के पास बैठा रहा। जबकि उसका भाई पुलिस के आने से पहले भाग गए। पुलिस ने मौके पर पहुंचकर आरोपी को गिरफ्तार कर कुल्हाड़ी बरामद की है। मौके पर पहुंची फॉरेंसिक टीम और पुलिस ने घटना स्थल का निरीक्षण किया और दोनों शवों को कब्जे में लेकर पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया है। मीडिया रिपोर्ट्स का कहना है कि घटना के दौरान लड़के के बेबस मां-बांप घर की खिड़की से अपने बेटे को कटता देख रहे थे। वे रहम की गुहार लगाते रहे, लेकिन किसी ने नहीं सुनी।

बिराहिनपुर गांव में रहने वाले आरोपी शिवआसरे ट्रक चालक है। वह अपनी पत्नी मीना के साथ बांदा स्थित ससुराल गया हुआ था। उनकी 16 साल की बेटी सपना का पड़ोस में रहने वाले शालू से प्रेम संबध था। सपना और शालू एक साथ स्कूल पढ़ने जाते थे, तभी दोनो के बीच प्रेम संबध हो गए थे।

शिवआसरे और मीना बांदा गए हुए थे इसका फायदा उठाते हुए देर रात सपना ने शालू को अपने घर बुला लिया। प्रेमी के घर आने की भनक पड़ोस में रहने वाले लड़की के चाचा दीपक को लग गई। उन्होंने दोनों को घर पर दबोच लिया। जिसके बाद चाचा ने दोनों को बांध कर 8 घंटे तक लाठी-डंडों से पीटा और इसकी जानकारी अपने बड़े भाई को दी।

शनिवार सुबह शिवआसरे घर पहुंचा और बेटी और उसके प्रेमी को जमकर फटकार लगाई। घर के अंदर बेटी के बहस करने पर पिता ने आपा खो दिया। आरोपी ने अपने भाइयों आमआसरे और दीपक के साथ मिलकर बेटी व उसके प्रेमी की कुल्हाड़ी से काटकर हत्या कर दी।

मामले की जानकारी मिलते ही लड़के के पिता और उसकी मां लड़की के घर पहुंच गए। खिड़की से हाथ पैर जोड़कर चीखते-चिल्लाते रहे कि वे उनके इकलौते बेटे को छोड़ दो। अब ऐसे गलती दोबारा नहीं करेगा। इसके बाद भी हत्यारों का दिल नहीं पसीजा और माता-पिता के सामने ही दोनों को कुल्हाड़ी से काट डाला।

घाटमपुर कोतवाल धनेष प्रसाद के मुताबिक, दोनों शवों को पोस्टमॉर्ट के लिए भेजा जा रहा है। गांव में पुलिस बल को तैनात किया गया है। इसके साथ जो आरोपी फरार है, उनकी तलाश की जा रही है।

Next Stories
1 शराब के नशे में गेट तोड़ कार ले कोविड अस्पताल में घुसे BJP नेता, पत्थर फेंक देने लगे गालियां! हिरासत में; पत्नी हैं पार्षद
2 लापता रहे नीतीश के ये MP, मौत की अफवाह उड़ी तो की PC, बोले- जनता चाह ले तो 21 दिन में जाएगा कोरोना, खोज कर नहीं कर सकता मदद
3 कोरोनाः ऑक्सीजन की कमी से जयपुर गोल्डन अस्पताल चली गई थी परिजन की जान, परिवारों ने बनाया WhatsApp ग्रुप, मांग रहे जवाब
यह पढ़ा क्या?
X