ताज़ा खबर
 

अफसरों को स्टडी टूर कराने के नाम पर यूपी सरकार से ठग लिए लाखों रुपए

उत्तर प्रदेश सरकार से दिल्ली की एक कंपनी ने लाखों रुपए की ठगी कर ली।

जिस वक्त इस टूर की बात हुई तब यूपी में अखिलेश यादव की सरकार थी।

उत्तर प्रदेश सरकार से दिल्ली की एक कंपनी ने लाखों रुपए की ठगी कर ली। यह ठगी NCTSR नाम की एक कंपनी ने की जो खुद को दिल्ली सरकार के अधीन बताती थी। उसने यूपी सरकार के ऊर्जा विभाग के अफसरों को ‘स्टडी टूर’ पर ले जाने का वादा करके पैसे लिए। पर ना ही ट्रिप करवाई और ना ही पैसे वापस दिए। बाद में पता लगा है कि दिल्ली सरकार का उस कंपनी से कोई लेना-देनी ही नहीं है।

टाइम्स ऑफ इंडिया की खबर के मुताबिक, पिछले साल दिसंबर 24 को यानी अखिलेश सरकार के वक्त NCTSR नाम की कंपनी ने यूपी इलेक्ट्रिसिटी बोर्ड के चेयरमैन देश दीपक वर्मा से संपर्क किया था। कंपनी ने कहा था कि वह विभाग के लोगों को स्टडी टूर पर सिंगापुर और थाईलैंड लेकर जा सकती है। इस टूर पर सहमति बन गई और मार्च 3-9 के बीच की तारीख भी फिक्स हो गई।

विभाग ने सरकार से अनुमति लेकर NCTSR को 4.43 लाख रुपए दे दिए। दीपक वर्मा अपनी पत्नी और बेटी को भी साथ लेकर जाना चाहते थे। इसके लिए उन्होंने 1.73 लाख रुपए अपनी जेब से दिए थे। लेकिन वह टूर कथित रूप से ‘वीजा की दिक्कतों’ की वजह से अटक गया। इसपर विभाग ने पैसे वापस मांगे। लेकिन NCTSR बार-बार टालता रही। जब ज्यादा दबाव डाला गया तो चेक से पैसे देने की बात NCTSR ने कही। लेकिन वह भी अबतक नहीं हुआ।

इसके बाद विभाग ने पुलिस में शिकायत दर्ज करवाई। पुलिस ने बताया कि NCTSR के जितने भी पत्र विभाग को आए सब में अलग-अलग पता था। पुलिस के मुताबिक, NCTSR ने अपनी वेबसाइट पर लिख रखा है कि वह दिल्ली के डिपार्टमेंट ऑफ लेबर के अंतर्गत आते हैं। पर जब दिल्ली सरकार से इस बारे में पूछा गया तो उन्होंने साफ कर दिया कि उस कंपनी से उनका कोई लेना-देना ही नहीं है। दिल्ली सरकार ने कहा कि उनको तो अभी पता लगा कि कोई उनके नाम का इस्तेमाल कर कंपनी खोले बैठा है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App