ताज़ा खबर
 

आरोपी का कटा कान लेकर SSP के पास पहुंची गैंगरेप पीड़‍िता, तब जाकर हुई FIR

पीड़िता ने एसपी से शिकायत की है कि पुलिस ने उसकी शिकायत दर्ज नहीं की।

तस्वीर का इस्तेमाल प्रतीक के तौर पर किया गया है।

पुलिस गैंगरेप की शिकायत दर्ज नहीं कर रही थी तो पीड़िता बतौर सबूत एक आरोपी का कटा हुआ कान लेकर एसएसपी के दफ्तर पहुंच गई। यह मामला उत्तर प्रदेश के अलीगढ़ का है। गुरुवार को पीड़िता अलीगढ़ के एसएसपी के दफ्तर गई, लेकिन वहां पर वे मिले नहीं। ऐसे में पीड़िता ने अपनी दास्तान एसपी(ग्रामीण) यशवीर सिंह को सुनाई और आरोपी के कटे हुए कान का टुकड़ा दिखाया। पीड़िता ने एसपी से शिकायत की कि दो दिन बीत जाने के बाद भी पुलिस ने इस मामले में कोई कदम नहीं उठाया है। इसके बाद सिंह ने एफआईआर दर्ज कराने के आदेश जारी किए और पुलिस ने मामला दर्ज किया।

हिंदुस्तान टाइम्स ने अपनी रिपोर्ट में लिखा है कि महिला अपने बच्चों के साथ सोमवार रात को घर में सोई हुई थी। तभी उनके पड़ोस के चार लोग पीड़िता के घर में घुसे और उसके साथ गैंगरेप करने लगे। पीड़िता की चीख सुनकर घर के बाहर कमरे में सो रहा उसका पति उसे बचाने आया। इसके बाद आरोपियों ने पीड़िता के पति के साथ भी मारपीट की। इसी दौरान महिला ने एक आरोपी का कान काट लिया। इसके बाद चारों आरोपियों ने उन्हें धमकी दी कि अगर इस बारे में किसी तो बताया तो बुरा अंजाम भुगतना पड़ेगा।

जब पीड़िता अपने पति के साथ अगले दिन पुलिस स्टेशन में शिकायत दर्ज कराने पहुंची तो पुलिस ने कुछ औपचारिकताएं जरूर कीं। पुलिस ने पीड़िता का मेडिकल चेकअप करवाया, लेकिन एफआईआर दर्ज नहीं की। इसके बाद एसपी के आदेश के बाद पुलिस ने तीन लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया है। पुलिस का कहना है कि कटा हुआ कान इन्हीं में से एक का है। इसके साथ ही पुलिस ने एक केस पीड़िता के पति के खिलाफ भी दर्ज किया है। पीड़िता के पति के खिलाफ चारों आरोपियों ने मारपीट का केस दर्ज करवाया है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App