ताज़ा खबर
 

बांदा की जिस जेल में बंद है मुख्तार अंसारी, ड्रोन, सीसीटीवी, ऐसे हो रही निगरानी

बांदा जेल प्रशासन के साथ-साथ डीजी जेल मुख्यालय से भी सीसीटीवी के जरिए लगातार निगरानी की जा रही है। बाहुबली विधायक की सुरक्षा में लगे सभी जेल अधिकारी और जेलकर्मियों को बॉडी वार्न कैमरे पहनाये गए हैं। जिसमें जेल की सारी गतिविधियां कैद होंगी।

Mukhtar Ansari, Uttar Pradesh, Yogi Adityanath, Punjab, Congress, Amarinder Singh, Supreme Court, मुख्तार अंसारी, बांदा जेल, डीजी जेल आनंद कुमार, mukhtar ansari criminal cases, Mukhtar Ansari, dg jail anand kumar, banda jail, jansattaबाहुबली विधायक मुख्तार अंसारी की सुरक्षा को लेकर पुख्ता इंतजाम किए गए हैं। (Express file photo)

उत्तर प्रदेश के बाहुबली विधायक मुख्तार अंसारी को सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद पंजाब से बांदा जेल लाया गया है। यहां उनपर कड़ी निगरानी राखी जा रही है। मुख्तार की सुरक्षा को लेकर पुख्ता इंतजाम किए गए हैं। उनके साथ पूरे जेल की निगरानी ड्रोन कैमरे से की जा रही है।

बांदा जेल प्रशासन के साथ-साथ डीजी जेल मुख्यालय से भी सीसीटीवी के जरिए लगातार निगरानी की जा रही है। बाहुबली विधायक की सुरक्षा में लगे सभी जेल अधिकारी और जेलकर्मियों को बॉडी वार्न कैमरे पहनाये गए हैं। जिसमें जेल की सारी गतिविधियां कैद होंगी। गुरुवार को डीजी जेल आनन्द कुमार ने जेल मुख्यालय स्थित वीडियो वॉल के कंट्रोल रूम में बैठ कर ड्रोन कैमरे में कैद मुख्तार की सुरक्षा व अन्य गतिविधियों के साथ बांदा जेल की सुरक्षा व्यवस्था परखी। डीजी जेल खुद बांदा जेल प्रशासन से लगातार फोन पर पल-पल की जानकारी ले रहे हैं।

बात दें बांदा जेल में प्रमोद कुमार त्रिपाठी ,जेलर तथा दो डिप्टी जेलर पहले से ही थे। मुख्तार के आने की वजह से दो नए डिप्टी जेलर तैनात किए गए हैं। डीजी आनन्द कुमार ने बताया कि बांदा जेल की ड्रोन कैमरे से निगरानी बढ़ा दी गई। ड्रोन को उड़ाकर इसका सफल परीक्षण किया गया, जिसमें जेल के भीतर की हर बैरक और परिसर तक को सुरक्षा का जायजा लिया गया।

कुमार ने बताया कि इसके अलावा डिप्टी जेलर और जेलकर्मी को बॉडी वार्न कैमरे पहनाये गए हैं। यह कैमरा वर्दी पर सामने लगा होता है, जो जेल में बने कण्ट्रोल रूम से जुड़ा है। ड्रोन और बॉडी वार्न कैमरे की फुटेज और रिकार्डिंग जेल मुख्यालय के वीडियो वाल में रिकॉर्ड हो रहा है। जिसके जरिये अफसर यही से निगरानी कर रहे हैं।

वहीं मुख्तार की सुरक्षा में लगे अधिकारी व जेलकर्मियों की ड्यूटी जेल मुख्यायल से तय होगी। मुख्तार अंसारी को बैरक नंबर 16 में रखा गया है जो 24 घंटे कैमरे की निगरानी में है। जेल में दाखिल होने वाले हर व्यक्ति की अच्छी तरह से जांच पड़ताल की जा रही है चाहे वो कोई जेल स्टॉफ ही क्यों न हो।

Next Stories
1 चुनाव में नीतीश के खिलाफ खूब गरजे थे चिराग पासवान, अब लिया ‘बदला’, LJP का अकेला विधायक भी जदयू में शामिल
2 कई राज्यों में वैक्सीन की कमी, दिल्ली में भी 7 दिन का स्टॉक, केजरीवाल बोले- नहीं लगेगा लॉकडाउन लेकिन…
3 टीवी डिबेट में बिल्ली-बिल्ले तक पहुंच गई बीजेपी के संबित पात्रा और कांग्रेसी सुप्रिया श्रीनेत की नोकझोंक
यह पढ़ा क्या?
X