ताज़ा खबर
 

Kanpur: बंगाल से उठी हड़ताल की आग पहुंची UP, डॉक्टरों और तीमारदारों के बीच हुई झड़प

कानपुर में दूरदराज से आए मरीजों को इलाज न मिलने से उनके परिजन आक्रोशित नजर आए। गुस्साए मरीजों और उनके परिजनों ने जाम लगा दिया।

Author कानपुर | June 17, 2019 5:29 PM
कानपुर में डॉक्टरों की हड़ताल पर भड़के तीमारदार फोटो सोर्स- स्थानीय

पश्चिम बंगाल में डॉक्टरों पर हुए हमले के विरोध में देश भर के डॉक्टर लामबंद हो गए हैं। डॉक्टरों के हड़ताल पर जाने से स्वास्थ्य सेवाओं पर बुरा असर पड़ रहा है। इस दौरान कई जगहों पर लोगों के गुस्सा भड़कने का सिलसिला भी शुरू हो चुका है। यूपी के कानपुर स्थित हैलट अस्पताल के डॉक्टरों ने सोमवार को 24 घंटे की हड़ताल का ऐलान करते हुए ओपीडी के मेन गेट पर कथित तौर पर ताला लगा दिया। ऐसे में जब तीमारदार मरीजों को लेकर हैलट पहुंचे तो ओपीडी का गेट बंद देखकर भड़क गए और हंगामा शुरू कर दिया। बताया जा रहा है कि इस दौरान जूनियर डॉक्टरों, अस्पताल के स्टाफ के साथ तीमारदारों की झड़प भी हुई। हालांकि हंगामे की सूचना पर कई थानों की फोर्स ने मौके पर पहुंचकर किसी तरह मामला शांत कराया।

पश्चिम बंगाल से लेकर दिल्ली तक जारी डॉक्टरों के विरोध-प्रदर्शन के समर्थन में सोमवार को डॉक्टरों की देशव्यापी हड़ताल हुई। इस बीच यूपी के जीएसवीएम कॉलेज की प्रिंसिपल डॉ आरती लालचंदानी ने कहा था कि यहां हड़ताल पर जाने वाले जूनियर डॉक्टरों के खिलाफ एस्मा कानून के तहत कार्रवाई की जाएगी। विरोध जारी रहेगा लेकिन मरीजों के ईलाज में किसी प्रकार की बाधा नही आने दी जाएगी। ऐसे में जब यह खबर सोमवार मीडिया में आई तो कई जिलों से तीमारदार अपने मरीजों को लेकर ओपीडी और हैलट अस्पताल पहुंच गए। लेकिन जब उन्हें पता चला कि आज डॉक्टरों की हड़ताल है और ओपीडी भी बंद है तो वह भड़क गए। बताया जा रहा है कि डॉक्टरों के विरोध प्रदर्शन में शहर बाहर के करीब 2500 प्राइवेट डॉक्टरों ने हड़ताल की।

डॉ आरती लाल चंदानी के मुताबिक लगातार मीडिया में दिखाया जा रहा है कि सोमवार को हड़ताल है। लेकिन हम लोगों ने साफ कर दिया था कि यदि ओपीडी में कोई मरीज आता है तो उसे जरूर देखा जाएगा। उन्होंने कहा कि हम डॉक्टर्स ओपीडी में बैठे थे सभी ने मरीजो को देखा है। यह बात गलत है की ओपीडी में मरीज नहीं देखे गए हैं। उन्होंने कहा कि विरोध के बावजूद हैलट में सभी इमरजेंसी, आईसीयू और इमरजेंसी ऑपरेशन आदि चालू हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 UP: बिना वीजा 18 सालों से मथुरा में रह रहे 3 विदेशी गिरफ्तार, किराए के घर में करते थे भजन कीर्तन
2 J&K: राइफल के साथ कश्मीरी युवक की फोटो सोशल मीडिया पर वायरल, हफ्ते भर पहले हुआ था लापता