ताज़ा खबर
 

UP: मृत पत्रकार के घर जा रहे थे कांग्रेसी अजय कुमार लल्लू, रोककर लिए गए हिरासत में; बोले- CM साहब मुकदमे से न डराएं

अजय कुमार लल्लू ने ट्वीट किया है, मुकदमे से कौन डरता है? मुख्यमंत्री जी मुकदमे से डरा रहे हो लल्लू को?जेल में डालने के बाद मुट्टी तान तुम्हारे 'जंगलराज' के ख़िलाफ़ न्याय की आवाज बुलंद कर रहा हूं। मुख्यमंत्री जी ! किसी ने लिखा है कि: तय करो किस ओर हो तुम तय करो किस ओर हो आदमी के पक्ष में हो या कि आदमखोर हो।

Ajay Singh Lallu, Congress, BJP,रतन सिंह के घर जा रहे अजय कुमार लल्लू को पुलिस ने हिरासत में ले लिया। (फोटो-Twitter)

उत्तर प्रदेश के बलिया में हुई पत्रकार रतन सिंह की हत्या अब राजनीतिक तूल पकड़ती नजर आ रही है। कांग्रेस सचिव प्रियंका गांधी के ट्वीट के बाद अब कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू ने मोर्चा संभाल लिया है। वह रतन सिंह के घर जा रहे थे लेकिन रास्ते में उन्हें पुलिस ने  हिरासत में ले लिया। हिरासत में लिए जाने पर उन्होंने कहा कि सीएम साहब मुकदमें से ना डराएं।

उन्होंने ट्वीट करते हुए लिखा है, मुकदमे से कौन डरता है? मुख्यमंत्री जी मुकदमे से डरा रहे हो लल्लू को?जेल में डालने के बाद मुट्टी तान तुम्हारे ‘जंगलराज’ के ख़िलाफ़ न्याय की आवाज बुलंद कर रहा हूं। मुख्यमंत्री जी ! किसी ने लिखा है कि: तय करो किस ओर हो तुम तय करो किस ओर हो आदमी के पक्ष में हो या कि आदमखोर हो।

एक अन्य ट्वीट में उन्होंने लिखा है, पत्रकार की हत्या न होती, आजमगढ़ में BDC सदस्य की हत्या न होती तो नहीं जाता मैं। कहां थी पुलिस की मशीनरी? हत्या तो रोक नहीं पा रहे आप? जहां लल्लू जा रहा है रोक दे रही है पुलिस। क्या है लल्लू से? क्यूं घबराई है सरकार? जिसे मन किया उसे जेल डाल दिया। ऐस नहीं चलता है लोकतंत्र?

वहीं  बलिया में पत्रकार की गोली मारकर हत्या मामले पर उत्तर प्रदेश सरकार में मंत्री अनिल राजभर ने कहा कि पारिवारिक विवाद था, जमीन का विवाद था। कुछ दिन पहले भी दोनों परिवार में झगड़े हुए थे, उस समय भी जिला प्रशासन द्वारा उचित कार्रवाई की गई थी। कल घटना हुई, उसके बाद 6 लोगों को गिरफ्तार किया गया।

बता दें किउत्तर प्रदेश के बलिया जिले में पत्रकार रतन सिंह की हत्या के मामले में फेफना के थाना प्रभारी को निलंबित कर दिया गया है। पुलिस ने इस मामले में छह आरोपियों को गिरफ्तार किया है। अपर पुलिस अधीक्षक संजय यादव ने मंगलवार को बताया कि एक टीवी चैनल के पत्रकार रतन सिंह के पिता विनोद सिंह की शिकायत पर सोमवार की रात फेफना थाने में भारतीय दंड विधान की बलवा और हत्या के आरोप की धाराओं में दस व्यक्तियों के विरुद्ध नामजद मुकदमा दर्ज किया गया है। उन्होंने बताया कि पुलिस ने छह आरोपियों सुशील सिंह, सुनील सिंह, अरविंद सिंह , वीर बहादुर सिंह, दिनेश सिंह और विनय सिंह को गिरफ्तार कर लिया है। उन्होंने बताया कि विनोद सिंह ने शिकायत की है कि उनके पुत्र को गांव का ही सोनू सिंह कल रात आठ बजे घर से बुलाकर ले गया तथा उसके घर पर पहले से ही मौजूद लोग लाठी, डंडों और रिवाल्वर से लैस थे।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 2019 लोकसभा चुनाव में पीएम मोदी के प्रस्तावक रहे डोम राजा का निधन, पीएम और सीएम योगी ने दी श्रद्धांजलि
2 कर्नाटक Congress चीफ डीके शिवकुमार को COVID-19, 2 दिन से दिख रहे थे लक्षण; अस्पताल में भर्ती
3 तीन महीने में 3 पत्रकारों की हत्या, खबर लिखने पर 11 पत्रकारों पर FIR, प्रियंका गांधी ने योगी सरकार पर साधा निशाना
ये पढ़ा क्या?
X