ताज़ा खबर
 

संघ की बैठक से लौट रहे बीजेपी MLA पर जानलेवा हमला, पुलिस चौकी में घुस बचाई जान

एसएसपी गाजियाबाद वैभव कृष्णन ने बताया कि चारों हमलावर दो मोटरसाइकिलों पर सवार होकर आए थे। लोनी से बीजेपी विधायक फर्रूखनगर में हिंडन पुल की ओर से तब जा रहे थे, तभी उन पर जानलेवा हमले का प्रयास कर दिया गया था।

लोनी से विधायक मेरठ मवाना संघ की बैठक से लौटकर पुश्तैनी गांव जा रहे थे, तभी उनके वाहन पर हमला हुआ था। (फोटोः FB/ANI)

उत्तर प्रदेश में भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के विधायक नंद किशोर गुर्जर पर जानलेवा हमले की कोशिश की गई। आनन-फानन में उन्होंने पुलिस की चौकी में घुस कर जान बचाई। रविवार (17 जून) रात वह अपनी गाड़ी से गाजियाबाद की तरफ से जा रहे थे, तभी चार अज्ञात लोगों ने उनके वाहन की ओर फायरिंग कर दी थी। पुलिस ने बताया कि यह पूरा वाकया रात साढ़े 10 बजे के आसपास का है।

एसएसपी गाजियाबाद वैभव कृष्णन ने बताया कि चारों हमलावर दो मोटरसाइकिलों पर सवार होकर आए थे। लोनी से बीजेपी विधायक फर्रूखनगर में हिंडन पुल की ओर से तब जा रहे थे, तभी उन पर जानलेवा हमले का प्रयास कर दिया गया था। हालांकि, उस दौरान विधायक के साथ मौजूद सुरक्षाकर्मियों ने भी हमलावरों की फायरिंग का जवाब गोलियों से दिया था, जिसके बाद ड्राइवर ने गाड़ी फर्रूखनगर पुलिस चौकी की ओर मोड़ ली थी। अच्छी बात यह रही कि हमले के दौरान विधायक, निजी गनर और ड्राइवर को कुछ नहीं हुआ, जबकि गाड़ी का साइड रियर मिरर गोली लगने के कारण टूट गया।

गुर्जर तब मवाना मेरठ संघ की बैठक से लौटकर अपने पुश्तैनी गांव गनौली जा रहे थे। चौकी में पहुंचने के बाद उनकी जान में जान आई, जहां उन्होंने अज्ञात हमलावरों के खिलाफ शिकायत लिखाई। एसएसपी के अनुसार, मामला दर्ज कर लिया गया है। विधायक की गाड़ी पर कुछ गोलियां लगी हैं, जबकि उनके निजी गनर ने उस दौरान जवाबी फायरिंग की थी। जांच-पड़ताल की जा रही है।

उधर, विधायक ने बताया कि अज्ञात हमलावरों ने गाड़ी के दोनों तरफ आकर अचानक फायरिंग शुरू कर दी थी। सिर नीचे कर उन्होंने तब किसी तरह अपनी जान बचाई। हमले के बाद पुलिस ने घटनास्थल के आसपास कॉम्बिंग ऑपरेशन चलाया, मगर हमलावरों का कुछ भी पता न चला। गुर्जर ने कुछ दिन पहले जानलेवा हमले को लेकर आशंका जताई थी, जिसके बाद उन्होंने पुलिस से सुरक्षाकर्मी के लिए भी मांग की। हालांकि, उनकी मांग खारिज कर दी गई थी।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App