X

यूपी: बीजेपी नेता की गोली मार कर हत्‍या, हमलावर गिरफ्तार

उत्‍तर प्रदेश के बहराइच जिले में बीजेपी नेता वीरेंद्र मिश्रा की गोली मार कर हत्‍या कर दी गई। इस हत्‍याकांड को उनके भतीजे ने ही पैसों के विवाद में अंजाम दिया। पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। वीरेंद्र बूथ लेवल के पदाधिकारी थे।

भाजपा शासित उत्‍तर प्रदेश में एक सनसनीखेज मामला सामने आया है। आपसी रंजिश में बीजेपी नेता को गोलियों से भून डाला गया। पुलिस ने आरोपी हमलावर को गिरफ्तार कर लिया है। पीटीआई के अनुसार, यह घटना प्रदेश के बहराइच जिले के रुपईडीहा इलाके के बाबागंज गांव की है। पुलिस की मानें तो इस घटना को 31 जुलाई देर रात को अंजाम दिया गया। एसपी सभाराज ने बताया कि इस हत्‍याकांड को बीजेपी नेता के भतीजे ने ही अंजाम दिया। वीरेंद्र मिश्रा बीजेपी के बूथ लेवल के नेता थे। पुलिस अधीक्षक ने बताया कि वीरेंद्र के भतीजे प्रवेश कुमार ने पैसों के लेनदेन के विवाद में अपने ही चाचा की हत्‍या कर दी। पुलिस ने आरोपी को मौके पर से ही गिरफ्तार कर लिया। बता दें कि उत्‍तर प्रदेश में फिलहाल बीजेपी की ही सरकार है और योगी आदित्‍यनाथ मुख्‍यमंत्री हैं। बीजेपी नेता या उनके रिश्‍तेदारों की हत्‍या का यह कोई पहला मामला नहीं है। जनवरी में प्रदेश के बांदा जिले में अज्ञात हमलावरों ने बीजेपी नेता अवधेश तिवारी के भाई राकेश की गोली मार कर हत्‍या कर दी थी। हत्‍याकांड को अंजाम देने वालों ने पहले उनके सिर में गोली मारी और फिर तेज धार हथियार से हमला किया था।

उत्‍तर प्रदेश में योगी आदित्‍यनाथ की सरकार बनने के बाद भी बीजेपी नेताओं की हत्‍या की गई है। हमलावरों ने ग्रेटर नोएडा में बीजेपी नेता शिव कुमार यादव की हत्‍या कर दी थी। वह अपने गार्ड के साथ टोयोटा फॉर्च्‍यूनर कार से कहीं जा रहे थे जब बिसरख इलाके में बाइक सवार हमलावरों ने उनकी कार पर ताबड़तोड़ गोलियां बरसानी शुरू कर दी थी। इस हमले में शिव कुमार के साथ ही उनके दो सुरक्षाकर्मी भी मारे गए थे। हमलावरों ने आधे किलोमीटर दूर से उनके वाहन पर गोलियां बरसानी शुरू की थीं। कुछ महीनों बाद हत्‍यारोपी 50,000 रुपये का इनामी बदमाश शेरू भाटी ने पुलिस के समक्ष समर्पण कर दिया था। उत्‍तर प्रदेश में बढ़ते अपराध को लेकर योगी सरकार विपक्षी दलों के निशाने पर है। हालांकि, योगी सरकार ने अपराध के खिलाफ जीरो टोलरेंस की बात करते हुए अपराधियों के खिलाफ अभियान तेज कर दिया है। इसके कारण कई इनामी बदमाश अब तक समर्पण कर चुके हैं।

  • Tags: BJP, Uttar Pradesh (UP),
  • Outbrain
    Show comments