ताज़ा खबर
 

बीजेपी की महिला नेता ने पुलिसवाले को मारा थप्पड़, वायरल हुआ वीडियो

उत्तर प्रदेश के बरेली में भाजपा की एक महिला नेता पर पुलिसवाले को थप्पड़ मारने का आरोप लगा है। महिला नेता की इस हरकत का वीडियो वायरल हो रहा है। घटना सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गई थी।

तस्वीर का इस्तेमाल प्रतीकात्मक तौर पर किया गया है।

उत्तर प्रदेश के बरेली में भाजपा की एक महिला नेता पर पुलिसवाले को थप्पड़ मारने का आरोप लगा है। महिला नेता की इस हरकत का वीडियो वायरल हो रहा है। घटना का वीडियो सीसीटीवी कैमरे में हो गया था। घटना मंगलवार (13 फरवरी) की रात की है। टाइम्स नाउ की खबर के मुताबिक, बीजेपी की जिला मंत्री ज्योति मिश्रा पर नकटिया चौकी पर एक सिपाही विपिन चौहान को थप्पड़ मारने का आरोप है। महिला नेता ज्योति मिश्रा के साथ थाने में करीब 8-10 लोग भी पहुंचे थे, जिन पर सिपाही को चौकी में ही बुरी तरह पीटने का आरोप है। हालांकि, सिपाही पर भी मौका पाकर महिला नेता पर हाथ उठाने का आरोप लगा है। पुलिस ने भी इस बात की पुष्टि की है। इस मामले में महिला नेता ज्योति मिश्रा और सिपाही विपिन चौहान, दोनों के ही खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है।

एसपी सिटी रोहित सिंह ने मीडिया को बताया- ”दो पक्ष आपस में लड़ रहे थे, दोनों ही पक्षों को चौकी पर लाया गया। इस बीच, एक पक्ष के समर्थन में भाजपा नेत्री और उनके  8-10 समर्थक चौकी पर आए। बातचीत के दौरान जब गहमागहमी हुई तो महिला नेता ने एक सिपाही को थप्पड़ मार दिया। सिपाही ने भी पलट कर उन्हें एक थप्पड़ मार दिया। उसके बाद उनके समर्थकों ने सिपाही की जम कर पिटाई की। इसके दोनों पक्षों की ओर से मुकदमा दायर किया गया।”

स्थानीय मीडिया के अनुसार सिपाही विपिन चौहान को सस्पेंड कर दिया गया है। पुलिस ने साफ किया कि जांच के बाद यह बात सामने आई कि पहले महिला नेता ज्योति मिश्रा ने सिपाही पर हाथ उठाया था और उनके लोगों ने उसके साथ मारपीट की थी। बताया जा रहा है कि सिपाही किसी तरह जान बचाकर मौके से भागा था और जब वह पीटा जा रहा था, तब चौकी के बाकी लोग मूक दर्शक बने रहे। सिपाही ने रात में ही तहरीर लिखवाने की कोशिश की थी, लेकिन राजनीतिक दबाव के चलते उसकी शिकायत नहीं लिखी गई थी। बाद में सीसीटीवी से तस्वीर साफ होने पर बुधवार (14 फरवरी) को सिपाही की तरफ से भी महिला नेता के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App