मध्य प्रदेश की संस्कृति मंत्री का बयान: हर घर में रखें लाइसेंसी अस्त्र-शस्त्र और शास्त्र, पूरे विश्व का हो भगवाकरण तभी आएगी सुख-शांति

भोपाल में एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए उषा ठाकुर ने कहा कि वर्तमान में बढ़ रहे खतरों को देखते हुए हर घर में लाइसेंसी शस्त्र-अस्त्र और शास्त्र को रखा जाना चाहिए।

Usha Thakur
मध्य प्रदेश की पर्यटन, संस्कृति और अध्यात्म मंत्री उषा ठाकुर (फाइल फोटो) Source- Indian Express

शिवराज सरकार में मंत्री और मध्य प्रदेश के महू से विधायक उषा ठाकुर ने पूरे विश्व को भगवा करने का फार्मूला बताया है। भोपाल में एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए उषा ठाकुर ने कहा कि वर्तमान में बढ़ रहे खतरों को देखते हुए हर घर में लाइसेंसी शस्त्र-अस्त्र और शास्त्र को रखा जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि भगवा शांति का प्रतीक है। पूरे विश्व का भगवाकरण होगा तो सुख और शांति का माहौल बनेगा।

ठाकुर मंगलवार को भोपाल में राजपूत महिला विंग द्वारा आयोजित एक कार्यक्रम में बोल रही थीं। आरएसएस प्रमुख के ‘सबके पूर्वज एक’ के बयान पर अध्यात्म मंत्री ने कहा कि ऐतिहासिक प्रमाणों से यह बात सिद्ध होती है कि वास्तव में सबके पूर्वज हिंदू ही थे। उन्होंने कहा कि आप चार-पांच पीढ़ी पीछे जाएंगे तो आप खुद इस बात का पता लगा सकेंगे।

मेडिकल कोर्स में संघ की विचारधारा पढ़ाए जाने के सवाल पर उन्होंने कहा कि प्रेरक लोगों के बारे में पढ़ाना कैसे गलत हो सकता है। भगवाकरण ही भारतीय संस्कृति की आत्मा है। यह त्याग और बलिदान का प्रतीक है। कार्यक्रम में उन्होंने कहा कि बच्चों को संस्कार देने और परिवार को बेहतर स्वास्थ्य देने के लिए अध्यात्म की शिक्षा और नियमित पूजा-हवन कराना चाहिए।

उषा ठाकुर अक्सर अपने बयानों के कारण चर्चाओं में रहती हैं। पिछले दिनों वह सेल्फी के बदले पैसे के बयान को लेकर सोशल मीडिया पर ट्रोलर्स के निशाने पर आईं थी। मध्य प्रदेश की संस्कृति मंक्षी ने कहा था कि जो लोग आपके साथ सेल्फी लेना चाहते हैं उन्हें बदले में पैसे चुकाने होंगे।

गाय को राष्ट्रीय पशु घोषित किए जाने की मांग पर भी उषा ठाकुर ने अपना समर्थन व्यक्त किया था, साथ ही उन्होंने गौमांस पर इलाहाबाद हाई कोर्ट की टिप्पणी पर भी खुशी जताई थी। ठाकुर ने कहा था कि भारत की पहचान गाय से रही है, संस्कृति में गाय को पूजा जाता रहा है। ऐसे में इसको खाने की अनुमति नहीं देनी चाहिए।

पढें राज्य समाचार (Rajya News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट