after facing delhi rain usa secretary of state john kerry said to iit delhi students that You must've needed boats to get here - Jansatta
ताज़ा खबर
 

जब अमेरिकी विदेश मंत्री जॉन केरी ने IIT छात्रों से पूछा, आप लोगों को तो नाव से आना पड़ा होगा?

बुधवार को अमेरिकी विदेश मंत्री को दिल्ली स्थित कुछ धार्मिक स्थलों में जाना था लेकिन बारिश के कारण उन्हें अपना कार्यक्रम रद्द करना पड़ा।

Author नई दिल्ली | August 31, 2016 3:28 PM
दिल्ली में बुधवार (31 अगस्त) को हुई बारिश के बाद का एक दृश्य( तस्वीर-एपी)

बारिश में सारा शहर थम जाए ये नजारा मुंबई के लिए नया नहीं लेकिन इस बरसात में दिल्ली भी ऐसे ही कारणों से सुर्खियों में है। और जब ऐसी बेहाल कर देने वाली बारिश का नाता दुनिया के सबसे ताकतवर मुल्क अमेरिका से जुड़ जाए तो कहना ही क्या। सोमवार (29 जुलाई) शाम दिल्ली पहुंचे अमेरिकी विदेश मंत्री के लिए सिर मुड़ाते ही ओले पड़ने का मुहावरा सटीक बैठता है। दिल्ली पहुंचते ही केरी का दिल्ली में बारिश के कारण लगे ट्रैफिक जाम से सामना हो गया। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार केरी कई घंटे तक जाम में फंसे रहे।

मंगलवार (30 जुलाई) केरी आधिकारिक भेंट-मुलाकात में ही व्यस्त रहे। मंगलवार को उन्होंने भारतीय विदेश मंत्री सुषमा स्वराज के साथ दोनों देशों से जुड़े कई साझा मुद्दों पर चर्चा की। दोनों नेताओं मीडिया को परस्पर संबंधों में हुई प्रगति की जानकारी भी दी। लेकिन बुधवार को एक बार फिर बारिश ने केरी को अपना कार्यक्रम बदलने के लिए मजबूर कर दिया। केरी को दिल्ली के कुछ धार्मिक स्थलों का दौरा करने था लेकिन बारिश के कारण उन्हें अपना कार्यक्रम रद्द करना पड़ा। अमेरिकी विदेश मंत्री को बुधवार को ही इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी (आईआईटी) दिल्ली में छात्रों को संबोधित करना था। बारिश के बावजूद उन्होंने ये कार्यक्रम रद्द नहीं किया और वो बुधवार सुबह आईआईटी दिल्ली परिसर पहुंच गए।

आईआईटी के कार्यक्रम में अच्छी-खासी संख्या में मौजूद छात्रों को देखकर अमेरिकी विदेश मंत्री केरी बोल पड़े, “पता नहीं आप लोग यहां तक कैसे पहुंचे। जरूर ही आप लोगों को नाव की जरूरत पड़ी होगी।” केरी ने अपने संबोधन में छात्रों से भारत और अमेरिका के रिश्तों को लेकर कहा कि इन दोनों देशों के बीच रिश्ते पूरी दुनिया के लिए अहम है और आतंकवादियों और उग्रवादियों से लड़ाई एक अकेला देश नहीं जीत सकता। अमेरिका के राष्ट्रपति बराक ओबामा और भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बीच रिश्तों को लेकर केरी कहा कि उन्होंने निजी संबंध भी बनाए हैं जो कि एक लंबे विज़न से जुड़े हैं। केरी ने कहा, ” भारत और अमेरिका की सबसे खास बात हमारा इतिहास है जो असंभव चीज को भी हकीकत में बदल देता है।” अपने संबोधन में पाकिस्तान पर टिप्पणी करते हुए केरी ने कहा कि पाकिस्तान खुद अपने देश में आतंकवाद से जूझ रहा है। वहां 50 हजार से अधिक लोग इसकी वजह से मारे जा चुके हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App