US President Donald Trump follows the footprints of Narendra Modi for the development of Country, Says UP CM Yogi Adityanath - योगी का दावा- विकास के लिए मोदी के नक्शेकदम पर चलते हैं अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप - Jansatta
ताज़ा खबर
 

योगी का दावा- विकास के लिए मोदी के नक्शेकदम पर चलते हैं अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप

''जब अमेरिकी राष्ट्रपति से पूछा गया कि वह अपने देश का विकास कैसे करेंगे, उन्होंने उत्तर दिया था कि जैसे नरेंद्र मोदी भारत के विकास के लिए काम कर रहे हैं, वैसे करूंगा। यह मोदी जी के लिए ही नहीं, 125 करोड़ भारतीयों के लिए गर्व की बात है।''

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ। (फोटो सोर्स- एएनआई)

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शुक्रवार (19 जनवरी) को एक सभा को संबोधित करते हुए दावा कि अमेरिकी राष्ट्रपति प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के पदचिन्हों पर चलते हैं। सीएम योगी ने कहा-”जब अमेरिकी राष्ट्रपति से पूछा गया कि वह अपने देश का विकास कैसे करेंगे तो उन्होंने उत्तर दिया था कि जैसे नरेंद्र मोदी भारत के विकास के लिए काम कर रहे हैं, वैसे करूंगा। यह मोदी जी के लिए ही नहीं, 125 करोड़ भारतीयों के लिए गर्व की बात है।” सीएम योगी ने इससे पहले देश के विकास और धर्म को मजबूत करने के लिए जातिवाद के दंश को खत्म करने पर जोर दिया। उन्होंने कहा- ”अगर हम धर्म को बचाना चाहते हैं तो हमें हमारे बीच में प्रचलित जातिवाद के रूप में बुरे व्यवहारों को खत्म करना पड़ेगा। हम समाज और देश को तभी बचा पाएंगे, जब हम ऐसे तत्वों की पहचान करेंगे जो विभाजन के लिए जिम्मेदार हैं और लोगों को जागरूक कर पाएंगे।”

योगी आदित्यनाथ शुक्रवार को इलाहाबाद में शुरू हुए माघ मेले में शामिल होने के लिए पहुंचे थे। इस दौरान उन्होंने कई मुद्दों पर जनता को संबोधित किया। सीएम योगी को धार्मिक अनुष्ठानों में अक्सर शिरकत करते देखा जाता है। योगी के सीएम रहते संत समाज अयोध्या में राम मंदिर के निर्माण की उम्मीद कर रहा है। संतों के एक वर्ग की तरफ से ऐसा भी कहा जाता है कि 2013 में उन्होंने नरेंद्र मोदी के लिए प्रधानमंत्री पद की उम्मीदवारी की घोषणा की थी, जो सच साबित हुई थी, अब केंद्र में पीएम मोदी और सूबे में सीएम योगी के रहते राम मंदिर के निर्माण की पूरी उम्मीद है।

सीएम योगी पिछले कुछ दिनों से लगातार देश में जातिवाद और विभाजनकारी राजनीति पर निशाना साध रहे हैं, लेकिन इसी के साथ उन पर ऐसे आरोप भी लग रहे हैं कि वह राज्य को भगवा में रंगना चाहते हैं। पिछले दिनों लखनऊ के हज हाउस की दीवारों पर जब भगवा रंगा नजर आया तो मामले ने तूल पकड़ लिया था। सोशल मीडिया और चारों तरफ हुई आलोचना के बाद दो दिन में ही हज हाउस की दीवारों को उनके असली रंग में ला दिया गया था। सरकार की तरफ से कहा गया था कि ठेकेदार की गलती से ऐसा हुआ था।

वहीं हाल ही में योगी आदित्यनाथ ने आगामी कर्नाटक विधानसभा चुनाव को लेकर बेंगलुरु में एक सभा को संबोधित करते हुए सीएम सिद्धारमैया पर तल्ख हमला करते हुए कहा था कि अगर वह अपने आप को हिंदू कहते हैं तो गोमांस खाने वालों की वकालत क्यों करते हैं? इस पर सोशल मीडिया पर उल्टा लोगों ने योगी को ट्रोल कर दिया था। लोगों ने कहा था कि आपके गोवा के सीएम मनोहर पर्रिकर भी गोमांस को खाने की वकालत करते हैं तो क्या वह हिंदू नहीं हैं?

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App