ताज़ा खबर
 

जहरीली शराब पर योगी सरकार की सख्तीः स्टॉक करने, बेचने और ले जाने वाले पर NSA और गैंगस्टर एक्ट के तहत होगी कड़ी कार्रवाई

प्रमुख सचिव आबकारी के अनुसार यदि दोषियों द्वारा अवैध मदिरा के निर्माण या तस्करी के कार्य की पुनरावृत्ति की जाती है तो उनके विरूद्ध गैंगस्टर एक्ट और राष्ट्रीय सुरक्षा कानून के अंतर्गत अभियोग पंजीकृत करने पर भी विचार करने के निर्देश दिए गए हैं।

Author लखनऊ | Published on: July 4, 2019 6:08 AM
प्रतीकात्मक तस्वीर फोटो सोर्स-ANI

उत्तर प्रदेश में इस साल जहरीली और अवैध शराब पीने से सैकड़ों लोगों की मौत के बाद योगी आदित्यनाथ सरकार ने बड़ा फैसला लिया है। फैसले के तहत अब विषाक्त मदिरा के परिवहन और बिक्री पर अब राष्ट्रीय सुरक्षा कानून एवं गैंगस्टर एक्ट के तहत कार्रवाई कड़ी कार्रवाई की जाएगी। मुख्यमंत्री ने कानून के कड़ाई से अनुपालन के निर्देश दिए हैं।

इन धाराओं के तहत होगी सख्त कार्रवाईः सरकारी प्रवक्ता ने बुधवार (3 जुलाई) को बताया कि प्रमुख सचिव, आबकारी संजय आर भूसरेड्डी ने सभी मंडलायुक्तों, जिलाधिकारियों और आबकारी आयुक्त को निर्देश देते हुए कहा कि मदिरा से हुई जनहानि के मामलों में संयुक्त प्रान्त आबकारी अधिनियम, 1910 (यथा संशोधित) की धारा-60(क) के साथ-साथ भारतीय दण्ड संहिता (आईपीसी) की धारा-272, 273, 304 और राष्ट्रीय सुरक्षा कानून के तहत कार्रवाई सुनिश्चित की जाए।

गंभीर शारीरिक क्षति में दर्ज होगा मुकदमाः उन्होंने कहा कि विषाक्त मदिरा के सेवन से होने वाली जनहानि, अपंगता और गंभीर शारीरिक क्षति के प्रकरणों में प्रभावी रूप से अभियोग पंजीकृत किये जाएं। प्रमुख सचिव आबकारी के अनुसार यदि दोषियों द्वारा अवैध मदिरा के निर्माण या तस्करी के कार्य की पुनरावृत्ति की जाती है तो उनके विरूद्ध गैंगस्टर एक्ट और राष्ट्रीय सुरक्षा कानून के अंतर्गत अभियोग पंजीकृत करने पर भी विचार करने के निर्देश दिए गए हैं।

जहरीली शराब के खिलाफ चली थी मुहिमः उल्लेखनीय है कि इसी साल कुछ महीनों पहले जहरीली शराब के सेवन के चलते सहारनपुर और बागपत समेत प्रदेश के कई जिलों में सैकड़ों की तादाद में लोगों की मौत के बाद हड़कंप मच गया था। इसके बाद प्रदेशभर में अवैध शराब के खिलाफ अभियान चलाते हुए पुलिस ने कई लोगों को गिरफ्तार किया था। इस दौरान कई अधिकारी-कर्मचारी निलंबित भी किए गए थे।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App। जनसत्‍ता टेलीग्राम पर भी है, जुड़ने के ल‍िए क्‍ल‍िक करें।

Next Stories
1 हज यात्राः केंद्रीय मंत्री नकवी की मौजूदगी में IGI एयरपोर्ट से रवाना हुआ पहला जत्था, इस साल सबसे ज्यादा लोग जाएंगे मक्का
2 Jammu-Kashmir: 2014 से 2018 के बीच मारे गए 800 आतंकी, मोदी सरकार ने लोकसभा में किया खुलासा
3 रिटायर्ड सैन्यकर्मी सनाउल्ला खां नागरिकता साबित करने में नाकाम, हिरासत शिविर में रखने पर केंद्रीय गृह राज्यमंत्री ने दिया जवाब