ताज़ा खबर
 

विवेक हत्याकांड: ”नही आंटी…पापा तो दिल्ली गए हैं, आइसक्रीम लेकर आएंगे”, बेटी को पिता की मौत पर नहीं यकीन

''बड़ी बेटी को तो मैंने बुलाया, दिखाया, सब कुछ किया.. मेरी छोटी बेटी को आज... वो कल से सामने वाले घर में थी.. आज वो भाभी जबरदस्ती ले गईं.. उन्होंने दिखाया तो उसने साफ-साफ यही बोल दिया कि नहीं आंटी पापा तो दिल्ली गए हुए हैं.. वो तो आइस्क्रीम लेकर के आएंगे.. क्योंकि वो पूरा बॉडी पैक थी तो उसको कुछ समझ नहीं आया.. वो नहीं समझ पाई कि पापा हैं.. और बड़ी बेटी तो समझती है.. 11 साल की है.. सबकुछ पता है उसे..।''

विवेक तिवारी के परिवार की एक पुरानी तस्वीर जो उन्होंने फेसबुक पर साझा की थी। (Image Source: Facebook/Vivek Tiwari)

लखनऊ के विवेक तिवारी हत्याकांड की जांच रविवार (30 सितंबर) को विशेष जांच टीम (एसआईटी) ने शुरू कर दी। सरकार और प्रशासन के आश्वसन के बाद रविवार को ही विवेक तिवारी के पार्थिव शरीर का अंतिम संस्कार कर दिया गया लेकिन पुलिस की गोली से मारे गए पिता की छोटी बेटी को अब भी यह लगता है कि उसके पापा दिल्ली गए हैं और उसके लिए आइसक्रीम लेकर लौटेंगे। मृतक की पत्नी कल्पना तिवारी ने समाचार चैनल आजतक से बातचीत में यह बेहद भावनात्मक बात बताई। कल्पना तिवारी ने बातचीत के एक हिस्से में बताया, ”बड़ी बेटी को तो मैंने बुलाया, दिखाया, सब कुछ किया.. मेरी छोटी बेटी को आज… वो कल से सामने वाले घर में थी.. आज वो भाभी जबरदस्ती ले गईं.. उन्होंने दिखाया तो उसने साफ-साफ यही बोल दिया कि नहीं आंटी पापा तो दिल्ली गए हुए हैं.. वो तो आइस्क्रीम लेकर के आएंगे.. क्योंकि वो पूरा बॉडी पैक थी तो उसको कुछ समझ नहीं आया.. वो नहीं समझ पाई कि पापा हैं.. और बड़ी बेटी तो समझती है.. 11 साल की है.. सबकुछ पता है उसे..।” वीडियो में 17.5 के काउंटर से कल्पना तिवारी की यह बात सुनी जा सकती है।

कल्पना तिवारी लगातार सरकार से इंसाफ की मांग कर रही हैं। सरकार ने मृतक के परिवार को 25 लाख रुपये मुआवजा और पत्नी को नगर निगम में अधिकारी रैंक की नौकरी देने का आश्वासन दिया है। इस पर कल्पना तिवारी की मांग है कि सरकार एक करोड़ का मुआवजा दे क्योंकि उनके पति घर में कमाने वाले इकलौते थे और अभी उनके सामने बच्चों का पूरा भविष्य पड़ा है। कल्पना मीडिया के माध्यम से बार-बार सीएम योगी आदित्यनाथ से मुलाकात करने की मांग कर रही हैं। हालांकि यूपी के मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्या रविवार को पीड़ित परिवार से मुलाकात कर उचित काईवाई का भरोसा दे चुके हैं। कल्पना तिवारी ने मीडिया के माध्यम से दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के द्वारा किए गए ट्वीट का भी जवाब दिया है।

कल्पना ने कहा, ”जब उन्होंने मुझसे बात की थी.. तब तो ऐसी कोई बात नहीं की थी.. लेकिन हां, मैंने उनके ट्वीट के बारे में सुना.. अगर उन्होंने ऐसा ट्वीट किया है तो मेरा हाथ जोड़कर आप सब से ये विनम्र निवेदन है.. मैं किसी.. किसी भी राजनीतिक पचड़े में या फिर किसी भी जातिवाद के मामले में नहीं फंसना चाहती हूं.. ये योगी जी की सरकार है.. योगी जी सारी जाति को एक बराबर दृष्टि से देखते हैं.. और मेरा सारी राजनीतिक पार्टियों से यही विनम्र निवेदन है.. जो मेरा सहयोग कर सकता है.. जो आकर के सहानुभूति प्रकट कर सकता है, करिये.. लेकिन इसको किसी जाति या धर्म से जोड़कर के मत देखिए.. हम सब भारतवासी हैं.. बस..।”

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

X