scorecardresearch

वायरल विडियो: मिड डे मील में अयोध्या के स्कूल में चावल-नमक खाते दिखे छात्र

Uttar Pradesh: अयोध्या के एक स्कूल में मिड डे मील में बच्चों को नमक और चावल देने का वीडियो वायरल होने के बाद प्रिंसिपल को सस्पेंड कर दिया गया है।

वायरल विडियो: मिड डे मील में अयोध्या के स्कूल में चावल-नमक खाते दिखे छात्र
मिड डे मील में बच्चों को नमक और चावल देने के मामले में डीएम (बाएं) ने बताया कि प्रिंसिपल को सस्पेंड कर दिया गया है। (Photo Credit – Twitter/benarasiya)

उत्तर प्रदेश में मिड-डे मील के खाने में अव्यवस्था के मामले किसी से छुपी नही है। इसी कड़ी में जब अयोध्या जिले के एक सरकारी स्कूल में बच्चों को खाने में नमक के साथ चावल दिया गया और वीडियो वायरल हुआ तो प्रिंसिपल को निलंबित कर दिया गया। इस मामले पर जिलाधिकारी ने कहा कि उनके द्वारा की गई कार्रवाई सबूतों पर आधारित है और विस्तृत जांच की जाएगी।

प्राथमिक विद्यालय में एक छात्र के माता-पिता द्वारा रिकॉर्ड किए गए दो मिनट के वीडियो में दिखाया गया है कि बच्चे फर्श पर बैठे हैं और मिड-डे मील के तहत परोसे जाने वाले खाने में चावल और नमक खा रहे हैं।

वीडियो में शख्स लगातार कहते हुए सुनाई देता है कि “इस मामले में शिक्षक और ग्राम प्रधान ने जिम्मेदारी लेने से इंकार कर दिया है। फिर कौन जिम्मेदार है?” शख्स आगे कहता है कि “आप देख सकते हैं ये सभी बच्चे चावल और नमक खा रहे हैं। कौन अपने बच्चों को ऐसे स्कूल में भेजना चाहेगा? वह कहता है कि योगी बाबा (मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ) को यह वीडियो देखना चाहिए।”

इसी वीडियो में कैमरा उस दीवार पर जाकर रुकता है जिसमें मिड-डे मील के मेनू लिखा गया है। दीवार पर लिखा होता है- दूध, रोटियां, दाल, सब्जियां और चावल। वीडियो में शख्‍स इसके बाद कहता है, “इस मेनू में चावल-नमक का जिक्र कहां है?”

स्कूल के इस वीडियो पर जिलाधिकारी नीतीश कुमार ने कहा, ”मैंने आदेश दिया है कि योजना के अनुसार भोजन कराया जाना है। इसमें कोई ढिलाई बर्दाश्त नहीं की जायेगी। कुमार ने आगे कहा कि “मैंने संबंधित अधिकारी को जांच करने का आदेश दिया है। हमने वीडियो में जो देखा उसके आधार पर प्रिंसिपल को निलंबित करने का आदेश दिया है।”

गौरतलब है कि पिछली बार जब ऐसा वीडियो उत्तर प्रदेश में वायरल हुआ था तो खुलासा करने वाले को कार्रवाई का सामना करना पड़ा था। साल 2019 में, मिर्जापुर जिले में एक हिंदी अखबार के पत्रकार पवन जायसवाल ने एक सरकारी स्कूल में स्कूली बच्चों को रोटी और नमक परोसते हुए फिल्माया। जिसके बाद, पवन पर सरकार के खिलाफ कथित साजिश का मामला दर्ज किया गया था। हालांकि, बाद में यूपी पुलिस ने उन्हें बरी कर दिया था।

पढें राज्य (Rajya News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

First published on: 28-09-2022 at 10:58:25 pm