ताज़ा खबर
 

यूपी: अलीगढ़ के स्कूल में 2 बच्चों की मौत, 52 बीमार, अफसर बोले- हैंड पंप का दूषित पानी पीने से हुई गड़बड़

सीएमओ ने कहा, 'स्कूल के परिसर में एक हैंड पंप लगा है। इसी से बच्चों के पेयजल की आपूर्ति होती है। इसी पानी के चलते बच्चों को जी मिचलाना, उल्दी और दस्त की शिकायत हुई थी। बच्चों को प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में उपचार के लिए ले जाया गया था।'

Author अलीगढ़ | July 18, 2019 1:49 AM
प्रतीकात्मक तस्वीर फोटो सोर्स- जनसत्ता

उत्तर प्रदेश के एक स्कूल में दूषित पानी पीने से दो छात्रों की मौत का एक सनसनीखेज मामला सामने आया है। इस दौरान 52 छात्रों के बीमार होने की भी जानकारी मिली है। प्राप्त जानकारी के मुताबिक अलीगढ़ जिले के गांव सालगवां स्थित स्कूल में यह घटना हुई है। मामला मंगलवार (16 जुलाई) का बताया जा रहा है। अफसरों के मुताबिक यह गड़बड़ हैंड पंप का दूषित पानी पीने के चलते हुई है।

सीएमओ ने दी जानकारीः अलीगढ़ के चीफ मेडिकल ऑफिसर (सीएमओ) एमएल अग्रवाल ने बुधवार (17 जुलाई) को घटना की जानकारी देते हुए कहा कि हैंड पंप का दूषित पानी पीने से बच्चों की सेहत खराब हुई है। उन्होंने कहा, ‘स्कूल के परिसर में एक हैंड पंप लगा है। इसी से बच्चों के पेयजल की आपूर्ति होती है। इसी पानी के चलते बच्चों को जी मिचलाना, उल्दी और दस्त की शिकायत हुई थी। बच्चों को प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में उपचार के लिए ले जाया गया था।’

‘बीमार बच्चों की स्थिति नियंत्रण में’: उन्होंने कहा, ‘अब बीमार हुए बच्चों की स्थिति नियंत्रण में है। इस मामले में जांच का आदेश दिया जा चुका है। स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों और डॉक्टर्स की एक टीम गांव का दौरा कर चुकी है। पूरी जांच हो जाने तक टीम गांव में ही रूकेगी। टीम यह भी देखेगी कि कहीं यह दुर्घटना भारी बारिश के चलते हैंड पंप तक पहुंचे पानी से तो नहीं हुई। सभी बीमार बच्चों की हालत अब सामान्य है।’

स्कूली बच्चों के साथ लापरवाही के चलते दुर्घटना का यह पहला मामला नहीं है। हाल ही में उत्तर प्रदेश के ही एक स्कूल में कई बच्चों को करंट लगने का मामला सामने आया था। स्कूल की छत से हाईटेंशन तार छू रहे थे, बारिश के चलते दीवारों में नमी आई और बच्चों को करंट लग गया। हालांकि किस्मत से उस वक्त बिजली गुल हो गई अन्यथा कोई बड़ा हादसा हो सकता था।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App