ताज़ा खबर
 

यूपी: लाउड स्पीकर को लेकर दो समुदायों में खूनी जंग, एक की मौत, 2000 लोगों की भीड़ ने 25 घर फूंके

उत्तर प्रदेश के सहारनपुर में दो समुदायों के बीच झगड़े का मामला सामने आया।

Author May 6, 2017 1:24 PM
सहारनपुर में महाराणा प्रताप के कार्यक्रम पर बवाल हुआ था (PTI photo)

उत्तर प्रदेश के सहारनपुर में दो समुदायों के बीच झगड़े का मामला सामने आया। झगड़े में एक शख्स की मौत हो गई वहीं 16 लोग गंभीर रूप से जख्मी हैं। इसके साथ ही 25 घरों को भी आग लगा दी गई। वहां के शब्बीरपुर और शिमलाना गांव में रहने वाले राजपूत और दलित समुदाय के लोगों के बीच लड़ाई हुई। शब्बीरपुर दलित और शिमलाना ठाकुर बहुल इलाका है। इंडियन एक्सप्रेस को मिली जानकारी के मुताबिक, दोनों के बीच ताजा लड़ाई महाराणा प्रताप की याद में रखे गए एक कार्यक्रम के दौरान हुई। पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक, दोनों समुदायों के बीच पहले भी ऐसी लड़ाईयां होती रही हैं। इससे पहले दोनों समुदाय के बीच अंबेडकर की मूर्ति रखने पर भी विवाद हुआ था।

पुलिस के मुताबिक, शिमलाना में महाराणा प्रताप की याद में कार्यक्रम रखा गया था। शब्बीरपुर में रहने वाले वाले ठाकुर उसमें हिस्सा लेने के लिए जा रहे थे। उन लोगों ने कथित रूप से तेज आवाज में गाने बजाते हुए जा रहे थे । इसपर शब्बीरपुर के मुखिया शिव कुमार ने उन लोगों को आवाज धीमी करने को कहा जिसपर दोनों की लड़ाई हो गई। इसपर ठाकुर समुदाय के लोगों ने कथित रूप से गांव से लोगों को बुला दिया। फिर पहले 300 और फिर 2000 के करीब ठाकुरों ने शब्बीरपुर पहुंच गए। जिसके बाद झगड़ा बढ़ा और 25 घरों को फूंक दिया गया। ठाकुरों पर पुलिस के वाहनों और आग बुझाने वाली गाड़ी का रास्ता रोकने का भी आरोप है।

HOT DEALS
  • Sony Xperia XA1 Dual 32 GB (White)
    ₹ 17895 MRP ₹ 20990 -15%
    ₹1790 Cashback
  • Lenovo Phab 2 Plus 32GB Gunmetal Grey
    ₹ 17999 MRP ₹ 17999 -0%
    ₹0 Cashback

जिस शख्स की मौत हुई उसका नाम सुमित राजपूत है। वह पास के रसूलपुर गांव का रहने वाला था और शिमलाना में कार्यक्रम में हिस्सा लेने गया हुआ था। पुलिस के मुताबिक, सुमित के कहीं भी कोई चोट का निशान नहीं था और उसकी मौत की वजह दम घुटना बताया गया है।

दलितों के खिलाफ कुल चार एफआईआर दर्ज की गई हैं। इसमें हत्या, हत्या की कोशिश आदि आरोप शामिल हैं। हालांकि, फिलहाल किसी की गिरफ्तारी नहीं हुई है। इस मामले में दलित लोगों की तरफ से कोई शिकायत दर्ज नहीं करवाई गई है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App