ताज़ा खबर
 

यूपी: रिटायर्ड दरोगा की पीट-पीटकर हत्‍या, CCTV में कैद हुआ वाकया, HC ने लिया संज्ञान

पुलिस ने इस मामले में एफआईआर दर्ज की है लेकिन एएनआई के अनुसार मंगलवार (4 सितंबर) तक कोई गिरफ्तारी न होने पर हाईकोर्ट ने पुलिस से 24 घंटे के भीतर जवाब मांगा है।

प्रतीकात्मक तस्वीर

उत्तर प्रदेश के इलाहाबाद में एक रिटायर्ड दरोगा की लाठियों पीट-पीटकर हत्या कर दी गई। खौफनाक वारदात सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गई। पुलिस ने इस मामले में एफआईआर दर्ज की है लेकिन एएनआई के अनुसार मंगलवार (4 सितंबर) तक कोई गिरफ्तारी न होने पर हाईकोर्ट ने पुलिस से 24 घंटे के भीतर जवाब मांगा है। हाइकोर्ट ने कहा कि सीसीटीवी फुटेज में नजर आने पर भी आरोपियों की गिरफ्तारी क्यों नहीं हुई? मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक सोमवार (3 सितंबर) को इलाहाबाद के शिवमुक्ति इलाके में कथित तौर पर जमीन विवाद के चलते कुछ दबंगों ने उत्तर प्रदेश पुलिस से रिटायर्ड 70 वर्षीय अब्दुल समद खान पर लाठियों से बर्बर हमला कर दिया। मुख्य आरोपी का नाम जुनैद खान बताया जा रहा है। रिपोर्ट्स के मुताबिक स्थानीय थाने में जुनैद के खिलाफ 10 आपराधिक मामले दर्ज हैं। सीसीटीवी फुटेज के मुताबिक सनद खान को उस वक्त आरोपियों ने निशाना बनाया जब वह साइकिल से कहीं जा रहे थे। सीसीटीवी फुटेज के अनुसार सबसे पहले एक आरोपी लाठी लेकर उन पर टूट पड़ता है। सनद खान आत्मरक्षा करते हुए दिखाई देते हैं। वह आरोपी के हमले से बचने के लिए हर संभव कोशिश कर ही रहे होते हैं कि तभी दो और आरोपी उन पर लाठियों से ताबड़तोड़ प्रहार करना शुरू कर देते हैं।

सीसीटीवी फुटेज में साफ दिखाई देता है कि तीनों आरोपी अब्दुल समद खान पर बर्बर हमला कर रहे होते हैं और कुछ लोग अपने दुपहिया वाहनों से वारदात को नजरअंदाज करते हुए मौके से निकल जाते हैं। फुटेज में एक चबूतरे से कुछ लोग पीटे जाते हुए समद खान को झांक-झांककर देखते हुए देखे जाते हैं लेकिन वे वहशत का विरोध नहीं करते हैं। तीनों आरोपियों के लाठियों के प्रहार झेलते हुए आखिर में समद खान शिथिल हो जाते हैं, वह होश खो बैठते हैं, मीडिया खबरों के अनुसार उनका एक हाथ तो लगभग मौके पर ही टूट जाता है। रिपोर्ट्स के मुताबिक हमले में बुरी तरह जख्मी हुए अब्दुल समद खान अस्पताल में दम तोड़ देते हैं।

अब्दुल समद खान 2006 में रिटायर हुए थे। उनके भाई अब्दुल वाहिद ने बताया कि आरोपी का धंधा जमीन कब्जाने का है, वह उनके भाई की भी एक जमीन कब्जाना चाहता है, अब तक कई लोग उसकी शिकायत कर चुके हैं लेकिन पुलिस ने कार्रवाई नहीं की। फिलहाल मामले में 10 लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज हैं लेकिन आरोपी पुलिस की पकड़ से दूर हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App