ताज़ा खबर
 

प्रवासी भारतीय दिवस: वाराणसी के गांवों में पहुंचेंगे प्रवासी मेहमान, तैयारियों में जुटा जिला प्रशासन

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी में 15वें प्रवासी भारतीय सम्मेलन को लेकर तैयारियां अंतिम चरण में है। बताया जा रहा है कि सम्मेलन के मद्देनजर वाराणसी आ रहे प्रवासी मेहमान पर्यटन स्थलों के अलावा गांवों का भ्रमण भी कर सकते है।

Author January 18, 2019 4:24 PM
प्रवासी भारतीय दिवस (प्रतीकात्मक चित्र) फोटो सोर्स- फाइनेंसियल एक्सप्रेस

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी में 15वें प्रवासी भारतीय सम्मेलन को लेकर तैयारियां अंतिम चरण में है। बताया जा रहा है कि सम्मेलन के मद्देनजर वाराणसी आ रहे प्रवासी मेहमान पर्यटन स्थलों के अलावा गांवों का भ्रमण भी कर सकते है। इसको लेकर जिला प्रशासन ने तैयारी करने के साथ जिला पंचायतों को गांवों की जिम्मेदारी सौंप दी है। वाराणसी आ रहे प्रवासी काशी विश्वनाथ मंदिर, गंगा घाट पर होने वाले आरती को भी देखेंगे। फिलहाल प्रशासन की तैयारियों और प्रवासियों के स्वागत के मद्देनजर ग्रामीण खासे उत्साहित है। बता दें कि वाराणसी में 21 से 23 जनवरी के बीच होने वाले ‘प्रवासी भारतीय दिवस’ के लिए अब तक 5802 लोगों का पंजीकरण हो चुका है।

प्रवासी भारतीय सम्मेलन के मद्देनजर जिलाधिकारी सुरेंद्र सिंह ने बताया कि प्रवासियों की गांव भ्रमण इच्छा हुई तो उनके लिए वाल्वो बस की सुविधा प्रदान की जाएगी। बता दें कि वाराणसी जिला प्रशासन की ओर से प्रवासियों के लिए बने टेंट सिटी के नजदीक बसे ऐढ़े गांव के अलावा महान उपन्यासकार मुंशी प्रेमचन्द्र के जन्मस्थान लमही में भ्रमण के लिए प्रवासियों को ले जाया जाएगा। इससे पहले ही खंड विकास अधिकारी को गांव की व्यवस्था दुरुस्त रखने के लिए कह दिया गया है। प्रवासियों के संभावित गांव भ्रमण के मद्देनजर टेंट सिटी के पास के ऐढ़े गांव में स्कूल का रंग-रोगन पूरा हो गया है। स्कूल की व्यवस्था में सुधार करते हुए सोलर सिस्टम भी लगा दिया गया है जिससे पंखा, बल्ब के साथ ही सबमर्सिबल पंप चल रहा है।

स्थानीय प्रशासन द्वारा गांव के अंदर दिन-रात काम हो रहा है। सड़को का चौड़ीकरण, नवीनीकरण या गांव की साफ़ सफाई हो सबके लिए युद्धस्तर पर काम जारी है। गांव के बच्चों को भी प्रवासियों का स्वागत करने के लिए तैयार किया जा रहा है। जिसे लेकर ग्रामीण भी बहुत उत्साहित हैं। इसके साथ मुंशी प्रेमचंद के लमही में भी तैयारी जोरों पर चल रही है। उनके स्मारक स्थल समेत पूरे इलाके की सफाई की जा रही है। बता दें कि प्रवासी भारतीय दिवस सम्मेलन के मद्देनजर वाराणसी आ रहे आ रहे राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री, मुख्यमंत्री समेत अन्य वीवीआईपी की सुरक्षा के लिए भारी संख्या में पुलिस और पैरा मिलेट्री फोर्स की तैनाती भी की जा रही है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 Uttar Pradesh: बदल गई पुलिस कॉन्सटेबल भर्ती एग्जाम की डेट, जानें कैसे डाउनलोड होगा एडमिट कार्ड
2 आतंक पीड़ितों की मदद के लिए युवती गई थी काबुल, ब्लास्ट में हुई मौत, आज घर पहुंचेगा शव
3 यूपी कैबिनेट की बैठक में हुआ फैसला, मुगलसराय तहसील का नाम बदलकर रखा गया दीनदयाल उपाध्याय