ताज़ा खबर
 

CAA विरोधी प्रदर्शन में शामिल लोगों की संपत्ति जब्त करेगी योगी सरकार, लखनऊ में 8 लोगों के घर के बाहर चिपकाया नोटिस

लखनऊ पुलिस ने जिन 27 लोगों पर CAA-NRC प्रदर्शन के दौरान हिंसा भड़काने का केस किया है, उन पर सतखंड पुलिस आउटपोस्ट में आग लगाने का आरोप हैं।

Author Edited By कीर्तिवर्धन मिश्र लखनऊ | Updated: November 4, 2020 12:13 PM
UP Police, CAA-NRC Protestsलखनऊ के ठाकुरगंज में पिछले साल दिसंबर में सीएए-एनआरसी प्रदर्शनों के दौरान हुई थी हिंसा।

उत्तर प्रदेश के लखनऊ में पिछले साल CAA-NRC के खिलाफ हुए प्रदर्शनों के दौरान हिंसा भड़काने के आठ आरोपियों के घर के बाहर पुलिस ने नोटिस लगा दिए हैं। पुलिस का कहना है कि जिन लोगों के घर के बाहर नोटिस लगाए गए हैं, उन पर यूपी गैंगस्टर एक्ट और UAPA एक्ट के तहत केस दर्ज हैं। यह सभी लोग केस दर्ज होने के बाद से ही फरार हैं।

ठाकुरंगज थाने के एसएचओ राजकुमार ने बताया कि सीएए-एनआरसी के खिलाफ हुए प्रदर्शनों में दौरान हिंसा भड़काने वाले 27 लोगों के खिलाफ इसी साल मार्च में केस दर्ज किए गए थे। इनमें से सात ने कोर्ट जाकर अपनी गिरफ्तारी पर स्टे ले लिया, जबकि 11 को गिरफ्तार कर लिया गया था। बाकी बचे आठ लोग फरार हैं। इसीलिए हमने इनके घर के बाहर नोटिस लगा दिया। अब हम सीआरपीसी के नियमों के तहत कोर्ट जाकर इनकी संपत्ति जब्त करने की मांग करेंगे।

बता दें कि लखनऊ के कई इलाकों में दिसंबर में सीएए-एनआरसी प्रदर्शनों के दौरान हिंसा भड़क उठी थी। ठाकुरगंज इलाके में भी 19 दिसंबर को उपद्रव हुआ था। लखनऊ पुलिस ने जिन 27 लोगों पर प्रदर्शन के दौरान हिंसा भड़काने का केस किया है, उन पर सतखंड पुलिस आउटपोस्ट में आग लगाने का आरोप हैं। प्रदर्शनों के दौरान कई वाहन और सार्वजनिक संपत्तियों को भी नुकसान पहुंचा था।

इसी साल मार्च में लखनऊ पुलिस ने हिंसा के आरोपियों की तस्वीरों वाले होर्डिंग कई जगहों पर लगा दिए थे। हालांकि, तब इलाहाबाद हाईकोर्ट ने यूपी शासन को फटकार लगाते हुए इसे निजता के हनन का मामला बता दिया था। बाद में योगी सरकार ने इन होर्डिंग्स को उतरवाया था। जिले में कई पुलिस स्टेशनों में सैकड़ों लोगों के खिलाफ हिंसा में शामिल होने के मामले दर्ज हैं।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 नमाज पढ़ने से मंदिर खराब कैसे हो गई? डिबेट में बोले पैनलिस्ट तो महामंडलेश्वर पंचानंद जगतगुरु ने दिया ये जवाब
2 बिहार चुनाव: तेजस्वी की सीट पर एक बूथ पर 4.30 घंटे में ही 50% वोटिंग, तेज प्रताप में क्षेत्र में सबसे ज्यादा मतदान
3 मुंबई पुलिस ने अर्णब गोस्वामी को घर में घुसकर किया गिरफ्तार, एंकर का आरोप- हुई मारपीट