ताज़ा खबर
 

UP: महिला सुरक्षा को लेकर नोएडा पुलिस सख्त, मनचलों को जारी ‘रेड कार्ड’ जारी करेगा एंटी-रोमियो स्क्वॉड

सार्वजनिक जगहों पर महिलाओं का उत्पीड़न करते पाए गए दोषियों को लाल कार्ड जारी किया जाएगा। यह लाल कार्ड चेतावनी के तौर पर सार्वजनिक जगहों पर सादे कपड़ों में तैनात एंटी रोमियो स्क्वायड द्वारा जारी किया जाएगा।

Author नोएडा | June 28, 2019 10:08 AM
महिला उत्पीड़न के दोषियों को जारी होगा ‘लाल कार्ड’ फोटो सोर्स- इंडियन एक्सप्रेस

सार्वजनिक जगहों पर महिलाओं का उत्पीड़न करते पाए गए दोषियों को नोएडा पुलिस पहले चेतावनी स्वरूप ‘लाल कार्ड’ जारी करेगी। इसके बाद भी अगर वे ऐसी गतिविधि में लिप्त पाए जाते हैं तो उनके खिलाफ आपराधिक कार्यवाही शुरू की जाएगी। अधिकारियों ने गुरुवार को यह जानकारी दी। यह ‘लाल कार्ड’ सार्वजनिक जगहों पर सादे कपड़ों में तैनात एंटी रोमियो स्क्वायड जारी करेगा। एंटी रोमियो स्क्वायड में महिला एवं पुरूष कॉन्स्टेबल दोनो शामिल होंगे।

चेतावनी के तौर पर मिलेगा लाल कार्डः साल 2017 में योगी आदित्यनाथ के पदभार ग्रहण करने के तुरंत बाद उत्तर प्रदेश में महिलाओं का पीछा करने वालों और छेड़खानी करने वालों पर लगाम लगाने के लिये एंटी रोमियो स्क्वायड गठित किए गए थे। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक उत्तर प्रदेश में महिलाओं के खिलाफ बढ़ते आपराधिक मामलों पर लगाम लगाने के लिए योगी सरकार 1 जुलाई से लेकर 31 जुलाई तक यह विशेष अभियान चलाने जा रही है। इस विशेष अभियान के तहत प्रशासन द्वारा गठित की गई टीमें स्कूल और कॉलेजों में जाकर भी छात्राओं को जागरुक करेंगी। बता दें इससे पहले भी उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ महिलाओं का उत्पीड़न करने वालों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई के आदेश दे चुके हैं। अभी हाल ही में उन्होंने एंटी रोमियो स्क्वॉयड को दोबारा सक्रिय करने के निर्देश दिए थे। बता दें इस लाल कार्ड में दोषी का पूरा विवरण होगा, जिसमें उसका पता और नंबर शामिल है। इसे रिकॉर्ड के लिए सुरक्षित रखा जाएगा ताकि जरूरत पड़ने पर भविष्य में इसका इस्तेमाल किया जा सके।

National Hindi News, 28 June 2019 LIVE Updates: देश-दुनिया की हर खबर पढ़ने के लिए यहां करें क्लिक

की जाएगी कार्रवाईः पुलिस के एक प्रवक्ता ने बताया, ‘‘दोषियों को चेतावनी के तौर पर पहले ‘लाल कार्ड’ दिया जाएगा और अगर किसी व्यक्ति को इससे पहले यह कार्ड जारी किया जा चुका है और वह दोबारा ऐसी ही गतिविधि में लिप्त पाया जाता है तो उसके खिलाफ आपराधिक कार्रवाई शुरू की जाएगी।’’

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App