ताज़ा खबर
 

बीजेपी- सपा का सीधा मुकाबला

जिला पंचायत अध्यक्ष पद के अराजनीतिक चुनाव को सियासी तूल उस वक्त मिला जब सपा नेतृत्व ने निवर्तमान जिला पंचायत अध्यक्ष नीतू सिंह को पार्टी का अधिकृत उम्मीदवार घोषित कर दिया।

Author शाहजहांपुर | January 11, 2016 03:08 am

जिला पंचायत अध्यक्ष पद के अराजनीतिक चुनाव को सियासी तूल उस वक्त मिला जब सपा नेतृत्व ने निवर्तमान जिला पंचायत अध्यक्ष नीतू सिंह को पार्टी का अधिकृत उम्मीदवार घोषित कर दिया। इसी के साथ अन्य पार्टियों के खेमों में भी उम्मीदवार तय करने की कवायद शुरू हो गई। अपवाद के तौर पर कांग्रेस खेमा जिला पंचायत अध्यक्ष पद के चुनाव से दूर रहा, लेकिन भाजपा और बसपा खेमे में संभावित उम्मीदवार को लेकर हलचलें बढ़ गई थीं।

यह अलग बात रही कि बसपा नेतृत्व ने नामांकन के दिन कोई उम्मीदवार चुनाव मैदान में नहीं उतारा। भाजपा की कोर कमेटी ने भी किसी उम्मीदवार के नाम पर सहमति की मोहर नहीं लगाई। नतीजे में भाजपा के जिलाध्यक्ष और पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष वीरेंद्र पाल सिंह यादव के बेटे अजय यादव ने पार्टी समर्थित उम्मीदवार के तौर पर नामांकन करा कर अध्यक्ष पद के लिए दावा ठोंक दिया।

अजय के नामांकन में बसपा के एमएलसी जयेश प्रसाद के निकटस्थ जिला पंचायत सदस्य पति सुधाकर त्रिपाठी के शामिल रहने से उसी दिन स्पष्ट हो गया कि प्रसाद भवन का समर्थन मिलने से न तो एमएलसी के भाई जीवेश प्रसाद चुनाव लड़ेंगे और न ही बसपा खेमा अपना उम्मीदवार चुनाव मैदान में लाएगा। यही हुआ भी, इन्हीं दोनों उम्मीदवारों के नामांकन के बाद कयास लगाए जा रहे थे कि यदि कोई एक उम्मीदवार मैदान से हटा तो निर्विरोध निर्वाचन का रास्ता साफ हो जाएगा, लेकिन ऐसा नहीं हुआ।

नाम वापसी की प्रक्रिया के लिए सुरक्षा के लिहाज से अभेद्य दुर्ग में तब्दील कलक्ट्रेट कैंपस के डीएम न्यायालय कक्ष में सुबह से शाम तक सारे अफसर जमा रहे, लेकिन दोनों उम्मीदवारों में कोई भी निर्देशन पत्र वापस लेने नहीं आया।
एडीएम प्रशासन मुनेंद्र नाथ उपाध्याय ने बताया कि निर्विरोध निर्वाचन की संभावना खत्म हो जाने के कारण जिपं अध्यक्ष पद के लिए मतदान सात जनवरी को दिन में 11 बजे से अपराह्न तीन बजे तक कराया जाएगा और इसके तुरंत बाद मतगणना शुरू हो जाएगी।है कि नई टंकियों के शुरू होने के बाद शहर के किसी कोने में पानी की समस्या से लोगों को नहीं जूझना पड़ेगा।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App