scorecardresearch

Shrikant Tyagi Case: श्रीकांत त्यागी की गिरफ्तारी के बाद त्यागी समाज ने बुलाई महापंचायत, न्याय नहीं मिलने पर दी आंदोलन की चेतावनी

Shrikant Tyagi Case: त्यागी समाज के लोगों ने सांसद महेश शर्मा के खिलाफ प्रधानमंत्री व उत्तर प्रदेश पुलिस के महानिदेशक को पत्र लिख कर अनुशासनात्मक कार्रवाई करने की मांग की है।

Shrikant Tyagi Case: श्रीकांत त्यागी की गिरफ्तारी के बाद त्यागी समाज ने बुलाई महापंचायत, न्याय नहीं मिलने पर दी आंदोलन की चेतावनी
श्रीकांत त्यागी को पुलिस ने मंगलवार (9, अगस्त) को मेरठ से गिरफ्तार किया था। (Photo Credit – PTI/File)

Shrikant Tyagi Case: यूपी के नोएडा के ओमैक्स सोसायटी में एक महिला से दुर्व्यवहार करने को लेकर श्रीकांत त्यागी को अभी जेल में ही रहना होगा। 11 अगस्त को सूरजपुर अदालत ने श्रीकांत त्यागी की जमानत याचिका खारिज कर दी। वहीं इस मामले में श्रीकांत के समर्थन में त्यागी समाज महापंचायत कर श्रीकांत का समर्थन किया है। इसमें श्रीकांत त्यागी को रिहा करने की मांग की गई।

श्रीकांत के समर्थन में हापुड़ के अछेछा गांव में त्यागी समाज ने प्रदर्शन किया और कहा कि श्रीकांत को साजिश का शिकार बनाया गया है। अगर श्रीकांत को सही से न्याय नहीं मिला तो यह मामला काफी आगे बढ़ जाएगा। लोगों ने जिला कार्यालय पर डीएम को इस संबंध में ज्ञापन सौंपा। प्रदर्शन कर रहे लोगों का कहना है कि मामूली सी बात पर श्रीकांत त्यागी का मीडिया ट्रायल हो रहा है।

प्रदर्शन में शामिल लोगों का आरोप है कि छोटे से विवाद को लेकर इतना बड़ा विवाद बनाया गया है। वहीं पूर्व केंद्रीय मंत्री और सांसद डॉ. महेश शर्मा के खिलाफ भी त्यागी समाज और गुर्जर समाज लामबंद हुआ है। त्यागी समाज के लोगों ने शर्मा के खिलाफ प्रधानमंत्री व उत्तर प्रदेश पुलिस के महानिदेशक को पत्र लिख कर अनुशासनात्मक कार्रवाई करने की मांग की है।

प्रदर्शनकारियों ने कहा कि महेश शर्मा जानबूझकर श्रीकांत त्यागी के साथ अपनी पुरानी रंजिश निकाल रहे हैं। एक छोटे से मामले में सांसद का शामिल कहां तक सही है। श्रीकांत को ईनामी बदमाश बना दिया गया। हमारी मांग है कि श्रीकांत के साथ कानून स्तर पर उचित कार्रवाई हो लेकिन उनकी पत्नी और बच्चों का क्या कसूर है, उन्हें क्यों परेशान किया जा रहा है।

वहीं एक यूट्यूब चैनल से बात करते हुए श्रीकांत त्यागी की मामी इंगला त्यागी ने आरोप लगाया कि श्रीकांत की गिरफ्तारी से पहले तक पुलिस ने हमारे साथ दुर्व्यवहार किया। पूछताछ के नाम पर हमें तीन दिनों तक पुलिस टॉर्चर करती रही। पुलिस ने उस दौरान हमसे जो-जो बातें कहीं, उसे सोचकर परेशान हो जाती हूं। इंगला ने आरोप लगाया कि पुलिस ने फिजिकली तो नहीं लेकिन मेंटली टॉर्चर किया। श्रीकांत की खोज पुलिस उत्तराखंड गई थी, उस दौरान इंगला को दबिश में साथ रखा था

पढें राज्य (Rajya News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

अपडेट