ताज़ा खबर
 

यूपी MLC चुनाव: BJP ने उस पूर्व विधायक का टिकट काट दिया जिसे खींचकर मंदिर के अंदर ले गए थे पीएम नरेंद्र मोदी

वाराणसी से ही 7 बार के विधायक रहे श्यामदेव राय चौधरी को टिकट नहीं मिला। उन्होंने कहा “अमित शाह ने मुझसे वादा किया था। ये काशी का अपमान है।”

पीएम मोदी बीजेपी के नाराज नेता श्यामदेव रॉय चौधरी को हाथ पकड़कर काशी विश्वनाथ मंदिर के अंदर ले गए। (Photo Source: Screengrab/twitter)

भारतीय जनता पार्टी ने उत्तर प्रदेश और बिहार में विधान परिषद सदस्यों के चुनाव के लिए प्रत्याशियों की घोषणा कर दी है। यूपी में इस बार पार्टी ने कुल चार दलबदलुओं को मौका दिया है, जबकि सूची में योगी आदित्यनाथ सरकार के दो मंत्री शामिल हैं। उत्तर प्रदेश में कुल 13 सदस्यों का चुनाव होना है। बीजेपी ने फिलहाल दस प्रत्याशियों के नामों की घोषणा की है। बताया जाता हैकि एक सीट बीजेपी ने सहयोगी दल अपना दल के लिए छोड़ी है। बीजेपी ने सपा छोड़कर पार्टी में आने वाले बुक्कल नवाब, डॉ. सरोजिनी अग्रवाल, यशवंत सिंह और बसपा छोड़ने वाले जयवीर सिंह को प्रत्याशी बनाया है। जबकि योगी आदित्यनाथ सरकार में मंत्री महेंद्र सिंह और मोहसिन रजा को भी टिकट मिला है। इसी तरह संगठन से अशोक कटारिया, अशोक धवन, विजय बहादुर पाठक और विद्यासागर सोनकर को पार्टी ने चुनाव मैदान में उतारा है। बहुजन समाज पार्टी से भीमराव आंबेडकर चुनाव मैदान में हैं।

वाराणसी के अशोक धवन को पीएम नरेन्द्र मोदी के लिए चुनाव में काम करने का ईनाम मिला है। वाराणसी से ही 7 बार के विधायक रहे श्यामदेव राय चौधरी को टिकट नहीं मिला। उन्होंने कहा “अमित शाह ने मुझसे वादा किया था। ये काशी का अपमान है।” पिछले विधानसभा चुनाव में चौधरी का टिकट कट गया था। बता दें कि श्यामदेव राय चौधरी वही नेता हैं, जिसे पीएम मोदी ने विधानसभा चुनाव प्रचार के दौरान मनाने की कोशिश की थी। तब वाराणसी में पीएम मोदी उन्हें जबरदस्ती खींचकर मंदिर में ले गए थे।

बता दें कि समाजवादी पार्टी ने अब तक प्रत्याशी नहीं उतारा है, माना जा रहा है कि पार्टी बसपा उम्मीदवार को समर्थन देकर लोकसभा उपचुनाव में समर्थन का अहसान चुकता करेगी। विधान परिषद की 13 सीटों के लिए उत्तर प्रदेश में 23 अप्रैल को मतदान होगा। वहीं बिहार में पार्टी ने उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी, मंगल पांडेय और संजय पासवान को एमएलसी का टिकट दिया है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App