ताज़ा खबर
 

दलित के यहां खाकर यूपी के मंत्री ने कहा- ज्ञानजी की मां बोलीं कि आज उद्धार हो गया

मंत्री राजेंद्र प्रताप सिंह ने कहा कि 'राम और सबरी का संवाद रामायण में है। आज जब ज्ञानजी की मां ने मुझे रोटी परोसी तो उन्होंने कहा कि मेरा उद्धार हो गया। किसी राजा के यहां भोजन किया होता तो शायद उनकी मां ने यह नहीं कहा होता'।

यूपी के मंत्री राजेंद्र प्रताप सिंह ने झांसी में दलित के घर खाना खाया।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के निर्देश के बाद भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के सांसद और विधायक दलित बहुल गांवों में जाकर दलितों से ना सिर्फ संवाद स्थापित कर रहे हैं बल्कि गांव के ही एक दलित के घऱ खाना भी खा रहे हैं। इसी कड़ी में यूपी के मंत्री राजेंद्र प्रताप सिंह उर्फ मोती सिंह मंगलवार (1 मई) को झांसी पहुंचे। यहां राजेंद्र प्रताप ने गढ़मऊ गांव में पहले चौपाल लगाया और फिर एक दलित परिवार के घर रात का खाना भी खाया। दलित के घर भोजन करने के बाद मंत्री राजेंद्र प्रताप सिंह ने कहा कि ‘राम और सबरी का संवाद रामायण में है। आज जब ज्ञानजी की मां ने मुझे रोटी परोसी तो उन्होंने कहा कि मेरा उद्धार हो गया। किसी राजा के यहां भोजन किया होता तो शायद उनकी मां ने यह नहीं कहा होता’। उन्होंने यह भी कहा कि दलित के घर खाना बहुत सुखद अनुभव होता है।

मीडिया से बातचीत में मंत्री राजेंद्र प्रताप सिंह ने कहा कि “ मैं क्षत्रिय पुत्र हूं। मेरे रक्त में देश, समाज और धर्म की रक्षा का दायित्व है। राम ने भी शबरी के जूठे बेर खाए थे। मैं प्रदेश सरकार के मंत्री के रूप में पुनः साधुवाद देना चाहूंगा देश के प्रधानमंत्री को जिन्होंने हमें इस दिशा की ओर मोड़ा। इनको जोड़कर। इनका प्यार देख रहे हैं, आप पूरे परिवार के चेहरे का भाव पढ़िए। इन्हें लगता है कि इन्हें कोई अलमोल चीज मिली है, जिसे ये खरीद नहीं सकते”।

आपको बता दें कि 2019 के लोकसभा चुनाव से पहले दलितों को लुभाने के लिए बीजेपी के मंत्री, सांसद और विधायक ग्राम स्वराज अभियान के तहत दलित बाहुल्य गांवों में चौपाल लगाने के साथ-साथ दलित के घर खाना भी खा रहे है। खुद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भी दलितों के घर जाकर खाना खा रहे हैं। इस बीच आदित्यनाथ सरकार के एक और मंत्री सुरेश राणा इस कवायद के दौरान एक विवाद का हिस्सा भी बन गए।

सोमवार को मंत्री सुरेश राणा दलित परिवार के घर भोजन करने गए थे। आरोप है कि उन्होंने दलित परिवार के बजाए हलवाई द्वारा तैयार खाना खाया। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक खाने के मेन्यू में दाल मखनी, मटर पनीर, पुलाव, तंदूरी रोटी और मीठे में गुलाबजामुन मंगवाया गया था। इसके अलावा, मिनरल वॉटर भी साथ लाया गया था।

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App