ताज़ा खबर
 

यूपी के मंत्री बोले- दूसरी पार्टी की रैली में जाओगे तो मेरा श्राप लगेगा, पीलिया हो जाएगा

राजभर पिछले कुछ दिनों से योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व वाली सरकार से नाराज हैं। इससे पहले उन्होंने योगी आदित्यनाथ पर जातिगत भेदभाव करने का आरोप लगाया था। यूपी के पिछड़ा कल्याण मंत्री ओम प्रकाश राजभर ने कहा था कि वह मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व में खुद को उपेक्षित महसूस करते हैं।

उत्तर प्रदेश के मंत्री ओमप्रकाश राजभर (फोटो सोर्स- फाइल फोटो)

उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ की सरकार के कैबिनेट मंत्री और सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के अध्यक्ष ओमप्रकाश राजभर अक्सर ही अपने बयानों को लेकर चर्चा में रहते हैं। एक बार फिर राजभर अपने बयान की वजह से सुर्खियां बटोर रहे हैं। उन्होंने बलिया जिले में आयोजित एक रैली को संबोधित करते हुए कहा कि अगर कोई व्यक्ति किसी अन्य पार्टी की रैली में जाएगा तो उसे वह श्राप दे देंगे और उसे पीलिया हो जाएगा।

उनके भाषण का एक वीडियो सामने आया है जिसमें वह लोगों से किसी अन्य पार्टी की रैली में न जाने को कहते हुए दिखाई दे रहे हैं। उन्होंने कहा, ‘आप लोग किसी न किसी पार्टी की रैली में तो जाएंगे ही, जब तक ओम प्रकाश राजभर का निर्देश लेकर मेरी टीम आपके पास नहीं जाएगी तब तक किसी और पार्टी की रैली में अगर कोई गया, तो ये समझ लेना कि ओम प्रकाश राजभर का श्राप उसे लग जाएगा। उसको पीलिया हो जाएगा। आप यहां आए हो, सोच लो कि उसे पीलिया हो जाएगा, जब ओम प्रकाश राजभर की दवाई लोगे तभी पीलिया ठीक होगा, वरना ठीक नहीं होगा। इस नाते मैं आगाह करता हूं।’

आपको बता दें कि राजभर पिछले कुछ दिनों से योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व वाली सरकार से नाराज हैं। इससे पहले उन्होंने योगी आदित्यनाथ पर जातिगत भेदभाव करने का आरोप लगाया था। यूपी के पिछड़ा कल्याण मंत्री ओम प्रकाश राजभर ने कहा था कि वह मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व में खुद को उपेक्षित महसूस करते हैं। इसके अलावा उन्होंने पिछले महीने में राजपूतों और यादवों को लेकर कथित तौर पर विवादित बयान भी दिया था। उन्होंने कहा था कि यादव और राजपूत जाति के लोग शराब का सेवन सबसे ज्यादा करते हैं। राजभर ने यह भी कहा था कि उनकी जाति पर शराब को लेकर सबसे ज्यादा आरोप लगते हैं, लेकिन यादव और राजपूत जाति के लोग इस मामले में सबसे आगे हैं, क्योंकि यह उनका पुश्तैनी कारोबार है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App