ताज़ा खबर
 

वैक्सिनेशन सेंटर पर भीड़ के सवाल पर बोले यूपी के हेल्थ मिनिस्टर- संक्रमण की तेज रफ्तार से लोगों में भय का माहौल

उन्होंने बताया कि 18 वर्ष से 44 वर्ष तक के लोगों को टीके लगाने के लिए हमारे पास जितनी डोज हैं, उसके हिसाब से हमने पहले 7 जिलों में इसे शुरू किया, फिर 11 और जिलों में बढ़ाया। कुल मिलाकर अभी 18 जिलों में यह चल रहा है।

कोरोना वायरस से बचाव के लिए टीका लगवाने के लिए जुटे लोग। (फोटो- पीटीआई)

यूपी में अस्पतालों के बाहर टीके लगवाने के लिए भारी भीड़ जुट रही है। इसको लेकर राज्य के चिकित्सा एवं स्वास्थ्य, परिवार कल्याण, मातृ एवं शिशु कल्याण विभाग के केबिनेट मंत्री जय प्रताप सिंह सवाल पूछे जा रहे हैं। आज तक न्यूज चैनल पर बात करते हुए एंकर नवज्योत रंधावा ने उनसे पूछा कि इतनी भीड़ क्यों लग रही है तो उन्होंने कहा कि लोग खुद को सेफ करने के लिए जल्द से जल्द टीका लगवाना चाहते हैं, जबकि अस्पतालों के पास डोज सीमित है।

उन्होंने कहा कि केंद्रों पर लंबी कतार लगने और भीड़ बढ़ने के पीछे वजह यह है कि 18 वर्ष से 44 वर्ष तक के लोगों को टीके लगाने के लिए भारत सरकार की गाइडलाइन के मुताबिक पहले कोविन पोर्टल या आरोग्य सेतु पर रजिस्ट्रेशन कराने को कहा गया है। इसके तहत उनको समय सीमा और एक कोविड सेंटर एलाट होगा, वहां उनकाे जाना होगा। वहीं उनको टीका लगेगा। लेकिन 44 वर्ष से ऊपर वालों को जिन्हें हम पहले से ही टीके लगा रहे थे, हमारे पास पर्याप्त डोज होने से कुछ समय पहले हम लोगों ने वॉक-इन भी शुरू कर दिया था। इससे वहां वे लोग भी पहुंचने लगे, जिनका नंबर अभी नहीं आया था। उन्हें देखकर 18 से 44 वर्ष की उम्र वाले यह समझने लगे कि वे भी वॉक-इन करेंगे तो उनको भी जल्दी टीका लग जाएगा। लेकिन ऐसा नहीं है, इसलिए भीड़ दिख रही है।

उन्होंने बताया कि 18 वर्ष से 44 वर्ष तक के लोगों को टीके लगाने के लिए हमारे पास जितनी डोज हैं, उसके हिसाब से हमने पहले 7 जिलों में इसे शुरू किया, फिर 11 और जिलों में बढ़ाया। कुल मिलाकर अभी 18 जिलों में यह चल रहा है। अभी जितनी डोज है, उससे यह एक सप्ताह और चलेगी।

कहा कि हमारे सभी अस्पतालों और सीएमओ के माध्यम से लोगों को बता दिया गया है कि अब 45 और इससे ऊपर वालों को भी रजिस्ट्रेशन कराकर ही आना होगा। क्योंकि हमारे पास केंद्र सरकार से मिली डोज में हमें अब कमी दिख रही है।

स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि जिस तरह से कोरोना वायरस की दूसरी लहर में म्युटेट हो गया है, उससे दूसरी बीमारियां भी हो रही और लोगों में भय बन गया है। वे चाहते हैं कि जल्द से जल्द टीके लगवा लें ताकि खुद को सुरक्षित कर लें।

इसकी वजह से लोग अस्पतालों में भीड़ बढ़ा रहे हैं। हम भी चाहते हैं कि सबको टीके लग जाएं। सरकार भी पूरी तरह से तैयार है। डोज की जितनी जल्दी व्यवस्था होगी, हम उतनी जल्दी सबको टीके लगाकर सुरक्षित करना चाहते हैं।

Next Stories
1 MP: थाने से 500 मीटर दूर बन रहे थे अवैध पटाखे, अचानक विस्फोट; 1 परिवार की औरतों की मौत
2 कोरोना के इलाज के लिए एसपी साहब मातहतों को दे रहे हैं अंबिया खाने की सलाह
3 मनी लॉन्ड्रिंग का मामलाः महाराष्ट्र के पूर्व गृह मंत्री अनिल देशमुख के खिलाफ ED का केस
ये पढ़ा क्या?
X