UP Govt Minister Om Prakash Rajbhar gives controversial Statement that Yadavas and Rajputs consume more liquor - सबसे ज्यादा यादव और राजपूत पीते हैं शराब- योगी आदित्यनाथ के मंत्री का विवादित बयान - Jansatta
ताज़ा खबर
 

सबसे ज्यादा यादव और राजपूत पीते हैं शराब- योगी आदित्यनाथ के मंत्री का विवादित बयान

राजभर ने यह भी कहा कि उनकी जाति पर शराब को लेकर सबसे ज्यादा आरोप लगते हैं, लेकिन यादव और राजपूत जाति के लोग इस मामले में सबसे आगे हैं, क्योंकि यह उनका पुश्तैनी कारोबार है। राजभर काफी समय से यूपी में बिहार की तरह शराबबंदी की मांग करते आ रहे हैं।

ओम प्रकाश राजभर, मंत्री, योगी सरकार। (फोटो- फेसबुक)

उत्तर प्रदेश की योगी सरकार के कैबिनेट मंत्री और सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी (सुभासपा) के राष्ट्रीय अध्यक्ष ओम प्रकाश राजभर ने कथित तौर पर यादवों और राजपूतों को लेकर विवादित बयान दिया है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक बनारस में पत्रकारों से बात करते हुए राजभर ने शुक्रवार (27 अप्रैल) को कहा कि यादव और राजपूत जाति के लोग शराब का सेवन सबसे ज्यादा करते हैं। उन्होंने अन्य जातियों के लोगों के द्वारा भी शराब का सेवन किए जाने की बात भी कही। राजभर ने यह भी कहा कि उनकी जाति पर शराब को लेकर सबसे ज्यादा आरोप लगते हैं, लेकिन यादव और राजपूत जाति के लोग इस मामले में सबसे आगे हैं, क्योंकि यह उनका पुश्तैनी कारोबार है। राजभर काफी समय से यूपी में बिहार की तरह शराबबंदी की मांग करते आ रहे हैं। वह इसके लिए आंदोलन किए जाने की बात भी कह चुके हैं। उन्होंने कहा था कि 20 मई से बलिया से शराबबंदी की मुहिम शुरू की जाएगी। जून के महीने में उन्होंने मऊ और आजमगढ़ में ऐसा ही आंदोलन चालाने की बात कही थी।

राजभर के मुताबिक राज्य से गरीबी को उखाड़ फेंकने के लिए शराबबंदी बेहद जरूरी है। बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने हाल ही में पार्टी नेताओं को नसीहत दी थी कि वे किसी तरह का अनर्गल बयान देकर मीडिया को मसाला न दें। राजभर बीजेपी से नहीं, लेकिन उसकी सरकार में शामिल हैं, लिहाजा उनके बयानों और टिप्पणियों से योगी और मोदी सरकार की छवि पर असर पड़ने की संभावना से इनकार नहीं किया जा सकता है।

इन दिनों भाजपा के एक और नेता अपने विवादित बयानों को लेकर सुर्खियों में है। त्रिपुरा के सीएम बिप्लब कुमार देब ने कुछ दिन पहले यह दावा ठोका था कि महाभारत काल में इंटरनेट और सैटेलाइट हुआ करते थे। गुरुवार (26 अप्रैल) को उन्होंने सौंदर्य प्रतियोगिताओं और पूर्व मिस वर्ल्ड डायना हेडन के प्रति विवादित बयान देकर पार्टी के नेताओं को असहज स्थिति में ला दिया था।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App