ताज़ा खबर
 

योगी आदित्य नाथ सरकार की तीसरी कैबिनेट बैठक, आगरा, गोरखपुर एयरपोर्ट का नाम बदला

योगी आदित्य नाथ सरकार की तीसरी कैबिनेट बैठक: इस मीटिंग में कई बड़े फैसले लिए गए।

CM Yogi Adityanath, Yogi Adityanath, BJP CMगोरखपुर से भाजपा सांसद और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ।

यूपी सरकार ने मंगलवार (18 अप्रैल) को अपनी तीसरी कैबिनेट की मींटिग की। इस मीटिंग में कई बड़े फैसले लिए गए। इसमें योगी सरकार ने कई बड़े फैसले लिए हैं।
गोरखपुर एयरपोर्ट का नाम बदला गया है। इसको अब योगी गोरखनाथ एयरपोर्ट कहा जाएगा। साथ ही आगारा एयरपोर्ट का नाम बदलकर दीन दयाल एयरपोर्ट किया जाने का फैसला लिया गया है। विकलांग विकास विभाग का भी नाम बदला गया। उसको अब दिव्यांग जन शक्तिकरण कहा जाएगा। इसके अलावा 20 नए कृषि केंद्र खोलने का भी फैसला लिया गया है। अब उनकी संख्या 89 हो जाएगी। इनके लिए वैज्ञानिक देने की बात भी कही गई है। यूपी के मंत्री सिद्धार्थ नाथ सिंह ने बताया कि ‘एक थी रानी ऐसी भी’ पर कोई टैक्स नहीं लगाया जाएगा। वह फिल्म विजय राजे सिंधिया की जीवनी पर बन रही है। बैठक में प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना को पूरी शिद्दत से लागू किए जाने की भी कही गई।

यूपी सरकार ने आज ही 41 अधिकारियों का तबादला भी किया। उसकी तरफ से यह दूसरी ऐसी कार्यवाही थी। जिन लोगों के तबादले की खबर आई उसमें आईएस (Indian Administrative Services) और पीसीएस (Provincial Civil Services) के अधिकारी शामिल हैं। इसमें राजीव रौतेला को गोरखपुर का डीएम बनाया गया है। प्रभात कुमार को मेरठ का कमिश्नर बनाया गया है। उन्हें ग्रेटर नोएडा अथॉरिटी का अतिरिक्त प्रभार भी दिया गया है। अनिल गर्ग को लखनऊ का मंडलायुक्त बनाया गया है। पीवी जगमोहन बरेली के कमिश्नर बनाए गए हैं। इससे पहले भी योगी आदित्य नाथ ने बड़ा प्रशासनिक फेरबदल किया था। तब सरकार ने 20 आईएएस अधिकारियों के तबादले किए थे। उसमें अखिलेश यादव और उनकी सरकार के पसंदीदा आईएएस अफसरों को किनारे कर दिया गया था।

योगी सरकार को एक महीना पूरा हो चुका है। इस एक महीने में योगी सरकार ने काफी सारे फैसले लिए। जिसमें एंटी रोमियो स्कवैड, बूचड़खानों पर कार्रवाई की काफी चर्चा हुई।

बता दें कि यूपी में नाम बदलने को लेकर पहले भी विवाद हो चुका है। देवबंद का नाम देववृंद करने को लेकर भी काफी विवाद हुआ था। वहां देववृंद के पोस्टर्स भी देखने को मिले थे। जिसके बाद विवाद बढ़ा था।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 शशिकला को बाहर करने और जयललिता की मौत की जांस कराने की मांग पर अटल है पनीरसेल्वम खेमा
2 सुशील मोदी का खुलासा, कहा- रेलमंत्री रहते हुए लालू यादव ने खरीदी बेनामी संपत्ति
3 कांग्रेस नेता और दिल्‍ली के पूर्व मंत्री अरविंदर सिंह लवली भाजपा में हुए शामिल
IPL 2020 LIVE
X