scorecardresearch

UP: पेशी पर आए बदमाश ने पुलिसकर्मियों को दी शराब पार्टी, बेहोश करके हो गया फरार

वकील की हत्या के लिए उम्रकैद की सजा काट रहे बदन सिंह उर्फ ​​बद्दो पुलिस को चकमा देकर फरार हो गया। ये वाकया उस वक्त हुआ जब उसे गाजियाबाद की अदालत ले जाया जा रहा था।

बदन सिंह बद्दो, फोटो सोर्स- इंडियन एक्सप्रेस

1996 में एक वकील की हत्या के लिए उम्रकैद की सजा काट रहा 50 वर्षीय अपराधी बदन सिंह उर्फ ​​बद्दो गुरुवार दोपहर पुलिस हिरासत से भाग गया। बता दें कि ये वाकया उस वक्त हुआ जब उसे गाजियाबाद की अदालत ले जाया जा रहा था। रिपोर्ट्स के मुताबिक इस मामले में जो बड़ी बात सामने आई है वो ये कि आरोपी बदन सिंह ने पुलिसकर्मियों को शराब पिलाई और फिर फरार हो गया।

कैसे हुआ फरार: मेरठ एसएसपी नितिन तिवारी ने बताया कि बद्दो पुलिस वालों को लेकर एक दिल्ली रोड पर ही एक मेरठ के होटल में लेकर गया। जहां उसके कुछ साथियों ने शराब पार्टी रखी थी। वहीं पुलिस ने सात पुलिसकर्मियों को हिरासत में ले लिया है। हालांकि वो अभी भी होश में नहीं है। इसके साथ ही नितिन तिवारी ने कहा- हमें उम्मीद है कि वह जल्द ही उसे गिरफ्तार कर लेंगे। गौरतलब है कि हिरासत में लिए गए लोगों में कांस्टेबल ओमवीर, संतोष, सुनील, राजकुमार, भूपिंदर और एहतेशाम और फर्रुखाबाद के पुलिस निरीक्षक देशराज त्यागी हैं।

National Hindi News Today LIVE: पढ़ें आज की बड़ी खबरें

कौन है बदन सिंह बद्दो: बता दें कि बद्दो फतेहगढ़ जेल में बंद था और एक मामले की सुनवाई के सिलसिले में गाजियाबाद की एक अदालत में जा रहा था। उसके खिलाफ हत्या और लूट सहित लगभग 10 मामले दर्ज हैं। गौरतलब है कि 1996 में कलेक्ट्रेट के पास मेरठ में ग्राम पंचायत चुनावों में प्रतिद्वंद्विता के कारण वकील रवींद्र गुर्जर की हत्या करने के लिए बद्दो को गिरफ्तार किया गया था। बता दें कि मेरठ पुलिस ने बद्दो को 2018 में गिरफ्तार किया था। पहले वो करीब एक महीने तक मेरठ जेल में रखा गया था जिसके बाद उसे बाद में फतेहगढ़ जेल में शिफ्ट कर दिया गया। चूंकि उसको वहां जान से मारने की धमकी मिल रहीं थीं। वहीं इस मामले में फर्रुखाबाद एसएसपी अनिल कुमार मिश्रा ने कहा ने इंडियन एक्सप्रेस से फोन पर बातचीत में कहा- हमने अपने क्राइम ब्रांच अफसर संजय मिश्रा को इस मामले की रिपोर्ट के लिए भेजा है। वहीं उनकी रिपोर्ट फाइल होने के बाद ही हम एक्शन लेंगे।

 

बेटे से मिलने के लिए पैरोल याचिका: सूत्रों के मुताबिक पिछले महीने फरवरी में बद्दो ने सुप्रीम कोर्ट में एक अर्जी दी जिसमें उनके बेटे सिकंदर से मिलने की पैरोल मांगी गई थी। जो ऑस्ट्रेलिया में एमबीए कर रहा है और एक महीने के लिए मेरठ आया था। हालांकि वो पैरोल याचिका अभी भी अदालत में लंबित है।

पढें राज्य (Rajya News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

अपडेट

X