ताज़ा खबर
 

गंगा में तैरती लाशों का वीडियो शेयर करने वाले पूर्व IAS पर दो FIR, बोले- आप आंकड़े छुपा सकते हैं, पर लाशों के ढेर कैसे छिपाएंगे?

शनिवार को एसपी सिंह ने एक और वीडियो शेयर किया। इसमें वे उत्तर प्रदेश में कोरोना की स्थिति को लेकर चिंता व्यक्त कर रहे हैं। सिंह ने इस वीडियो में कहा "जो लोग सच दिखा रहे हैं उनके खिलाफ यूपी पुलिस एफ़आईआर दर्ज़ कर रही है।

पूर्व IAS अधिकारी एसपी सिंह पर यूपी पुलिस ने मुकदमा दर्ज़ किया है। (file photo/twitter)

गंगा में तैरती लाशों का का वीडियो शेयर करने वाले पूर्व IAS अधिकारी एसपी सिंह पर यूपी पुलिस ने मुकदमा दर्ज़ किया है। रिटायर्ड आईएएस एसपी सिंह पर एक ट्वीट के माध्यम से जन मानस को भड़काने के प्रयास का आरोप है। एसपी सिंह ने हालही में उन्नाव में गंगा में उफनते शवों का वीडियो सोशल मीडिया पर पोस्ट करते हुए लिखा था कि यह हिंदुओं के लिए कलंक है।

शनिवार को एसपी सिंह ने एक और वीडियो शेयर किया। इसमें वे उत्तर प्रदेश में कोरोना की स्थिति को लेकर चिंता व्यक्त कर रहे हैं। सिंह ने इस वीडियो में कहा “जो लोग सच दिखा रहे हैं उनके खिलाफ यूपी पुलिस एफ़आईआर दर्ज़ कर रही है। मेरे खिलाफ भी 2 एफ़आईआर दर्ज़ की गई हैं। एक बनारस में की, जिसमें मैंने कोविड मरीज की लाश को नाले में फेकने की बात कही थी और वीडियो दिखाया था। दूसरी बलिया में जहां 67 शव गंगा में तैर रहे थे।”

IAS अधिकारी ने कहा “आप बताइये क्या ये सच नहीं है कि गंगा में हजारों लाशें तैर रही हैं। चाहे बलिया है, गाजीपुर है, राय बरेली है, उन्नाव, कानपुर हर जगह लाशें तैर हैं। घाटों में लाशों को दफन किया जा रहा है। लोग गरीबी के चलते अंतिम संस्कार नहीं कर पा रहे हैं और आप उसे चुपाना चाहते हो। आप आंकड़े छुपा सकते हैं, पर लाशों के ढेर कैसे छिपाएंगे?”

अधिकारी ने कहा, “सरकार गलत रास्ते पर है। उन्हें नौकरशाह बर्बाद कर रहे हैं। ये लोकतंत्र है। यहां विरोधी आवाज़ को सुनना चाहिए। मेरे ऊपर एफ़आईआर दर्ज़ कर के आप को कुछ हासिल नहीं होगा। मैं आप से निवेदन करता हूं कि विरोधी आवाज़ को सुनो और लोगों की ज़िंदगी बचाओ। जो एक बार मर गया वह कभी वापस नहीं आता।”

एसपी सिंह ने यह वीडियो शेयर करते हुए लिखा “नमस्कार! मैं उत्तरप्रदेश का सबसे बड़ा अपराधी सूर्यप्रताप सिंह बोल रहा हूँ। मेरा अपराध है की मैंने जनता के लिए बेड, आक्सीजन और दवाइयों की माँग की.. मेरा अपराध है की मैंने जनता के शवों का सम्मान से अंतिम संस्कार करने की माँग की.. दो मिनट मेरी बात जरूर सुनें सरकार।”

उनके इस वीडियो को आप नेता संजय सिंह ने भी शेयर किया है। संजय सिंह ने लिखा “ये अत्यंत दुखद है की आदित्यनाथ जी की सरकार कोरोना से लड़ने के बजाय सच उजागर करने वाले एक ईमानदार पूर्व IAS अधिकारी @suryapsingh_IAS से लड़ रही है उन देश द्रोह का मुक़दमा करना अन्यायपूर्ण है इस लड़ाई में हम सब उनके साथ हैं।”

Next Stories
1 Covid19: अमित शाह के गांव में बदतर हालात! 10 हजार की आबादी पर 1 बेड, 4 गांवों में 690 मौतें
2 चाचा ने भतीजी और उसके प्रेमी को डंडों से पीटा, पिता ने दोनों को कुल्हाड़ी से काटा, बेटे को कटता देख रहम की भीख मांगते रहे बेबस मां-बांप
3 शराब के नशे में गेट तोड़ कार ले कोविड अस्पताल में घुसे BJP नेता, पत्थर फेंक देने लगे गालियां! हिरासत में; पत्नी हैं पार्षद
ये पढ़ा क्या?
X