ताज़ा खबर
 

UP: किडनैपिंग के बाद कानपुर में एक और मर्डर, दोस्त ने उतारा मौत के घाट, फिरौती में मांगे थे 20 लाख

जांच में पता चला है कि बृजेश के दोस्त सुबोध सचान ने घटना को अंजाम दिया है। बृजेश की कोल्ड ड्रिंक में नींद की दवाई मिलाकर, रस्सी से उसकी हत्या की गई।

Kanpur, Murder, Kidnapping,कानपुर: बृजेश अपहरण और हत्या मामले में पुलिस ने एक कुएं से शव बरामद किया है।(फोटो-ANI)

उत्तर प्रदेश में अपराध का मामला थमता नजर नहीं आ रहा है। सूबे के कानपुर में अपहरण के बाद फिरौती की रकम ना मिलने पर एक शख्स को दोस्त ने मौत के घाट उतार दिया है। 12 दिन से लापता चल रहे धर्मकांटा के एक मैनेजर का शव एक कुएं से बरामद किया गया है। कानपुर के विकास दुबे, संजीत यादव के मामले के बाद यह तीसरा बड़ा मामला सामने आया है।

उत्तर प्रदेश के कानपुर देहात में 17 जुलाई बृजेश पाल का अपहरण किया गया था। घर ना पहुंचने पर  उनके भाई ने फोन किया तो फोन पर जवाब मिला कि बृजेश की सलामती के लिए पांच दिन के अंदर 20 लाख रुपए देने होंगे। इसके बाद से बृजेश का फोन लगातार बंद आ रहा था। पुलिस को इस बारे में सूचना दी गई जिसके बाद पुलिस ने जांच पड़ताल शुरू की। पुलिस के मुताबिक बृजेश धर्मकांटा के जिस आफिस से गायब हुआ था उसके बाहर एक जेसीबी चालक व एक मजदूर सोया था लेकिन किसी को उसके अगवा होने की भनक तक नहीं लगी। पुलिस ने बृजेश के जानने वालों के फोन कॉल्स सर्विलांस पर लगाए और इसके बाद कॉल डिटेल्स के आधार पर जांच शुरु कर दी।

दोस्त ने उतारा मौत के घाट: बृजेश की हत्या उसके दोस्त सुबोध ने की। 17 जुलाई की रात वह अपनी कार से बृजेश से मिलने गया। पार्टी का बहाना बनाकर उसे धर्मकांटे से बाहर बुलाकर गाड़ी में बैठाकर शराब पिलाई और बृजेश के लिए मंगाई सॉफ्ट ड्रिंक में नींद की गोलियां मिला दी।बृजेश के बेहोश होते ही रस्सी से गला कसकर उसकी हत्या कर दी।

SP कानपुर देहात,अनुराग वत्स ने बताया कि “थाना भोगनीपुर क्षेत्र में 17 तारीख को एक तहरीर प्राप्त हुई जिसमें बताया गया कि बृजेश नाम का एक 25 वर्षीय लड़का, जो धर्मकांटे पर काम करता था, उसका धर्मकांटे से अपहरण हुआ है। जांच में पता चला है कि बृजेश के दोस्त सुबोध सचान ने घटना को अंजाम दिया है। बृजेश की कोल्ड ड्रिंक में नींद की दवाई मिलाकर, रस्सी से उसकी हत्या की गई। जिसके बाद शव को गाड़ी में ले जाकर कुएं में फेंक दिया। बृजेश के घरवालों से हत्या के बाद फिरौती मांगी गई।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 ‘अराजकता’ का दूसरा नाम झारखंड, ‘दनदना’ रहे नक्सली और शासकवर्ग ‘मस्त’- हेमंत सोरेन सरकार पर BJP चीफ का वार
2 बिहार के दरभंगा में थाने में घुसा बाढ़ का पानी, तैर रहे सांप; पुलिस ने कहा-अपने खर्च पर नाव से कर रहे पेट्रोलिंग
3 महाराष्ट्रः COVID-19 के मद्देनजर बकरीद पर उद्धव सरकार नहीं जारी करेगी संशोधित गाइडलाइंस, लागू होंगे ये नियम
IPL 2020 LIVE
X