ताज़ा खबर
 

यूपी: सीएम योगी आदित्‍यनाथ ने लिया ऐसा फैसला कि कांग्रेसी विधायक भी कर रहे तारीफ

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ अपने काम को लेकर अक्सर विपक्षी दलों के निशाने पर रहते हैं लेकिन उनके एक काम की तारीफ कांग्रेस भी कर रही है। इससे पहले कांग्रेस 823 करोड़ की इस परियोजना में सरकार पर देरी करने के आरोप लगा रही थी।

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (PTI File Photo)

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ अपने काम को लेकर अक्सर विपक्षी दलों के निशाने पर रहते हैं लेकिन उनके एक काम की तारीफ कांग्रेस भी कर रही है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक सीएम योगी ने रायबरेली में प्रस्तावित अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) को जल्दी बनाने के लिए कहा है। इस संस्थान की आधारशिला 2013 में केंद्र में कांग्रेस की सरकार के वक्त रायबरेली से सांसद सोनिया गांधी ने रखी थी। केंद्र की मोदी सरकार पर आरोप लग रहे थे कि वह इस प्रोजेक्ट में देरी कर रही है। ऐसे में योगी की तत्परता से कांग्रेस खुश दिखाई दे रही है। सीएम योगी ने इस साल जुलाई तक बाह्य रोगी विभाग (ओपीडी) चालू करने को कहा है। वहीं सस्थान में मेडीकल की पढ़ाई 2019 से शुरू होगी। एक उच्च स्तरीय समीक्षा बैठक के बाद सीएम योगी को बताया गया कि 600 बिस्तर वाला सुपर-स्पेशलिटी अस्पताल 2020 तक तैयार हो जाएगा।

समीक्षा बैठक में केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के एक अतिरिक्त सचिव और राज्य सरकार के चिकित्सा शिक्षा मंत्री आशुतोष टंडन भी शामिल हुए थे। सीएम योगी के इस कदम की सराहना कांग्रेस कर रही है। रायबरेली से कांग्रेस की विधायक अदिति सिंह ने खुशी जताते हुए कहा- ”हमें इस बात की खुशी है कि हमारी पार्टी के प्रयास और दबाव के चलते और रायबरेली के लोगों के हितों को देखते हुए सरकार ने तय समय सीमा में परियोजना को पूरा करना सुनिश्चित किया है, इसके लिए मैं मुख्यमंत्री का शुक्रिया अदा करना चाहती हूं।

इससे पहले कांग्रेस 823 करोड़ की इस परियोजना में सरकार पर देरी करने के आरोप लगा रही थी। सीएम योगी पर यह भी आरोप लग रहा था कि गोरखपुर में एम्स को लेकर वह रायबरेली के एम्स में देरी कर रहे हैं। यूपी बेजेपी के प्रवक्ता चंद्र मोहन ने कहा कि योगी सरकार एक मंत्र में विश्वास रखती है, वह ‘विकास’ है। उन्होंने कहा कि सरकार ये सुनिश्चित करेगी कि गोरखपुर और रायबरेली दोनों के एम्स का काम तेजी पूरा हो। हालांकि कांग्रेस ने इस बात को लेकर नाखुशी भी जताई कि पहले 960 बेड वाले अस्पताल की परिकल्पना की गई थी, लेकिन बाद में इसे 600 बिस्तर वाला कर दिया गया।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App