ताज़ा खबर
 

यूपी: भाजपा विधायक के बेटे ने ग्रामीणों से की मारपीट, रोड जाम के बाद हो सका केस दर्ज

शाहजहांपुर जिले के पुवायां क्षेत्र से भाजपा विधायक के बेटे समेत तीन लोगों के खिलाफ एक शराब विक्रेता से कथित मारपीट के मामले में मुकदमा दर्ज किया गया है।

Author Edited By subodh gargya लखनऊ | Updated: January 27, 2021 7:03 PM
BJP, Lotus Symbolतस्वीर का इस्तेमाल प्रतीकात्मक तौर पर किया गया है।

शाहजहांपुर जिले के पुवायां क्षेत्र से भाजपा विधायक के बेटे समेत तीन लोगों के खिलाफ एक शराब विक्रेता से कथित मारपीट के मामले में मुकदमा दर्ज किया गया है। पुलिस ने बुधवार को यह जानकारी दी। घटना मंगलवार को हुई जिसके बाद नाराज ग्रामीणों ने पुवायां-पलिया राज्य मार्ग पर रास्ता जाम कर प्रदर्शन किया और आरोपियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किए जाने की मांग की थी।

पुलिस के अनुसार पुवायां क्षेत्र से भाजपा विधायक चेतराम वर्मा के पुत्र नीरज और उसके दो साथियों ने मंगलवार शाम को विवाद के बाद देसी शराब के विक्रेता शंकर वर्मा की पिटाई कर दी। उन्होंने बताया कि घटना की जानकारी जब पीड़ित के तहेरे भाई निवर्तमान प्रधान गंगासागर को लगी तो वह पीड़ित को थाने लेकर गए।

आरोप है कि पुलिस ने मामला दर्ज नहीं किया जिससे नाराज होकर ग्रामीणों ने जाम लगा प्रदर्शन किया। पुलिस उपाधीक्षक (नगर) प्रवीण कुमार ने ”भाषा” को बताया कि वह स्वयं घटनास्थल पर गए थे। ग्रामीणों ने आश्वासन के बाद जाम खोल दिया है तथा शंकर वर्मा की शिकायत पर विधायक पुत्र नीरज व अन्य के विरुद्ध हत्या के प्रयास समेत कई गंभीर धाराओं में मामला दर्ज कर लिया गया है।

वहीं, विधायक चेतराम वर्मा ने पत्रकारों को बताया कि उनके कार्यालय के सामने कुछ लोग बैठ कर शराब पी रहे थे, जिन्हें उनके पुत्र ने मना किया तो वह लोग बेटे को मारने पर आमादा हो गए।

विधायक ने कहा है कि इसके बाद रात में ग्रामीणों ने उनके कार्यालय पर आकर नारेबाजी की। यह सब एक राजनीतिक षड्यंत्र है और उनके विरोधियों द्वारा अनावश्यक इस मामले को तूल दी जा रही है।

Next Stories
1 मौत के बाद फिर जिंदा हो जाएंगे, अंधविश्वास में मां-बाप ने दो बेटियों को काट डाला
2 26 तारीख को फाइनल मैच होगा, सुधीर चौधरी ने शेयर किया गुरनाम सिंह चढ़ूनी का वीडियो, हुए ट्रोल
3 ठंड में बच्चों को हाफ पैंट-शर्ट में कराया गया योग, VIDEO शेयर करने पर 3 पत्रकारों पर केस; DM बोले- योग कोट पहन नहीं किया जा सकता
यह पढ़ा क्या?
X