ताज़ा खबर
 

यूपी: थाने में बीजेपी विधायक ने काटा जन्मदिन का केक, पुलिस अफसर भी हुए शामिल

जिस वक्त विधायक संजीव राजा अलीगढ़ के सासनी गेट पुलिस थाने में केक काट रहे थे, उसी दौरान अलीगढ़ के जयगंज इलाके में यादव और दलित समुदाय के लोग आमने-सामने आ गए।

भाजपा विधायक संजीव राजा केक काटते हुए। (image source-Youtube/video grab image)

उत्तर प्रदेश के अलीगढ़ में भाजपा विधायक द्वारा अपने जन्मदिन का केक पुलिस स्टेशन में काटने का मामला सामने आया है। बता दें कि यह केक ना सिर्फ पुलिस थाने में काटा गया, बल्कि कई वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों की मौजूदगी में काटा गया। पुलिस थाने में केक काटने वाले विधायक का नाम संजीव राजा है, जो कि अलीगढ़ कैंट इलाके से भाजपा विधायक हैं। वहीं इस घटना के सामने आने के बाद इस बात को लेकर सवाल उठाए जा रहे हैं कि पुलिस प्रशासन ने एक स्थानीय विधायक को पुलिस थाने में केक काटने की अनुमति कैसे दी?

टाइम्स नाउ की इस खबर के अनुसार, विधायक संजीव राजा द्वारा पुलिस थाने में केक काटा जाना इलाके की कानून व्यवस्था पर गंभीर सवाल खड़े करता है। उल्लेखनीय है कि जिस वक्त विधायक संजीव राजा अलीगढ़ के सासनी गेट पुलिस थाने में केक काट रहे थे, उसी दौरान अलीगढ़ के जयगंज इलाके में यादव और दलित समुदाय के लोग आमने-सामने आ गए। इस दौरान दोनों पक्षों में जमकर मारपीट और पत्थरबाजी हुई। जिसके बाद पुलिस प्रशासन को भारी पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचकर मामला शांत कराना पड़ा। एबीपी न्यूज की एक खबर में बताया जा रहा है कि यादव समाज के लोग हर साल इन दिनों सासनी गेट के जयगंज इलाके में एक मेले का आयोजन करते हैं, लेकिन इस मेले में दलितों को जाने की अनुमति नहीं है। इस बार कुछ दलितों के बच्चे इस मेले में पहुंच गए, जिससे यादव समाज के लोगों ने दलितों की पिटाई कर दी। इस घटना के बाद दोनों पक्ष आमने-सामने आ गए और जमकर पत्थरबाजी हुई।

एक तरफ जहां भारी पुलिस बल झगड़े को शांत करने की कोशिशों में जुटा था, वहीं शहर विधायक संजीव राजा उसी दौरान सासनी गेट थाने में अपने जन्मदिन का केक काट रहे थे। हैरानी की बात है कि विधायक के जन्मदिन का केक काटे जाने के दौरान प्रशासन के शीर्ष अधिकारी जैसे एसपी सिटी और असिस्टेंट डिस्ट्रिक्ट मजिस्ट्रेट आदि अधिकारी भी मौजूद थे। गौरतलब है कि अलीगढ़ को सांप्रदायिक तौर पर भी काफी संवेदनशील माना जाता है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App