ताज़ा खबर
 

DRDO का मानव रहित एयरक्राफ्ट रुस्तम-2 क्रैश हुआ, गांव के लोग पहले धमाका सुन घबराए फिर लेने लगे सेल्फी

रुस्तम-2 एक 'मीडियम एल्टीट्यूड लॉन्ग एंड्योरेंस' (मध्यम ऊंचाई पर लगातार काम करने वाला) यूएवी है, फिलहाल इंडियन आर्मी इसका इस्तेमाल करती है। इसका इस्तेमाल सर्विलांस में किया जाता है।

रुस्तम-2 क्रैश हुआ (प्रतीकात्मक तस्वीर- इंडियन एक्सप्रेस)

रक्षा अनुसंधान विकास संगठन (डीआरडीओ) का एक मानव रहित एरियल व्हीकल (यूएवी) रुस्तम-2 कर्नाटक के चित्रदुर्ग जिले में मंगलवार (17 सितंबर) की सुबह क्रैश हो गया। चल्लाकेरे एयरोनॉटिकल टेस्ट रेंज में इस एयरक्राफ्ट का परीक्षण चल रहा था। धमाके की आवाज सुनकर आसपास के गांवों में दहशत फैल गई, लोग घटनास्थल की तरफ भागे। हालांकि मानव रहित एयरक्राफ्ट लोगों में कौतूहल का विषय बन गया।

सेल्फी लेने लगे लोगः लोगों के लिए यह आश्चर्य की बात थी कि एयरक्राफ्ट में कोई नहीं था। जैसे-जैसे खबर फैली लोगों की भीड़ उसे देखने के लिए जुट गई। जब तक डीआरडीओ के अधिकारी और पुलिस टीम मौके पर नहीं पहुंची लोग दुर्घटनाग्रस्त यूएवी के साथ सेल्फी लेते रहे। लोगों को मानव रहित विमान होने की जानकारी नहीं थी। अधिकारियों और पुलिस प्रशासन ने लोगों को दूर किया। अब रिसर्च टीम जांच में जुट गई है।

ये है यूएवी रुस्तम-2 की खासियतः रिपोर्ट के मुताबिक डीआरडीओ को पहली बार 2014 में हुए डिफेंस एक्स्पो में प्रदर्शित किया गया था। फरवरी 2018 में रुस्तम-2 ने चित्रदुर्ग में ही सफलता पूर्वक उड़ान भरी थी। रुस्तम-2 एक ‘मीडियम एल्टीट्यूड लॉन्ग एंड्योरेंस’ (मध्यम ऊंचाई पर लगातार काम करने वाला) यूएवी है, फिलहाल इंडियन आर्मी इसका इस्तेमाल करती है। इसका इस्तेमाल सर्विलांस में किया जाता है। यह अपने साथ कई तरह के कॉम्बिनेशन में सिंथेटिक अपर्चर रडार और इलेक्ट्रॉनिक इंटेलीजेंस सिस्टम आदि ले जाने में सक्षम है। अपनी खूबियों के चलते यह एयरक्राफ्ट भारतीय सेनाओं के लिए बेहद काम का है।

National Hindi News 17 September 2019 LIVE Updates: देश-दुनिया की तमाम अहम खबरें सिर्फ एक क्लिक पर

सैन्य जरूरतों के लिए बना यूएवीः डीआरडीओ के मुताबिक यूएवी को बेंगलुरु स्थित एयरोनॉटिकल डेवलपमेंट एस्टेब्लिशमेंट (एडीई), हिंदुस्तान एयरोनॉटिक्स लिमिटेड और भारत इलेक्ट्रॉनिक्स लिमिटेड ने विकसित किया है। इसका मकसद इंडियन आर्मी, नेवी और एयर फोर्स की जरूरतें पूरी करना है। रुस्तम सेना के लिए बेहद काम का है। महत्वपूर्ण मिशन में यह बेहद मददगार है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 ‘थाने में ही गिराकर मारूंगा’, बीजेपी नेता पर दारोगा को धमकाने का आरोप, सामने आया ऑडियो
2 राजस्थानः बांध से छोड़े गए पानी से बंद हुए रास्ते, 2 दिन तक स्कूल में फंसे रहे 300 बच्चे और टीचर्स, ऐसे हुए रेस्क्यू
3 त्रिपुरा: सीएम बिप्लव देव बोले- जो लोग हिंदी का विरोध कर रहे, उन्हें देश से प्यार ही नहीं
ये पढ़ा क्या?
X