ताज़ा खबर
 

पटना में तलवार लेकर जुलूस में शामिल हुआ केंद्रीय मंत्री का आरोपी बेटा, भागलपुर में वारंट लेकर ढूंढ़ रही पुलिस

केंद्रीय मंत्री अश्विनी कुमार चौबे के बेटे अर्जित शाश्वत चौबे पर भागलपुर में जुलूस निकालकर सांप्रदायिक तनाव भड़काने का मुकदमा दर्ज हुआ है। जिस पर स्थानीय अदालत से जारी वारंट पर पुलिस ढूंढ रही है। उधर वे पटना में रामनवमी के मौके पर रविवार(25 मार्च) को जुलूस में नजर आए।

Author नई दिल्ली | March 26, 2018 1:23 PM
भागलपुर में दंगा भड़काने के आरोपी केंद्रीय मंत्री अश्वनी चौबे के बेटे अर्जित शाश्वत(बीच में भगवा गमछा) हाथ में तलवार लेकर जुलूस निकालते हुए(फोटो-फेसबुक)

केंद्रीय मंत्री अश्विनी कुमार चौबे के बेटे अर्जित शाश्वत चौबे पर भागलपुर में जुलूस निकालकर सांप्रदायिक तनाव भड़काने का मुकदमा दर्ज हुआ है। जिस पर स्थानीय अदालत से जारी वारंट पर पुलिस ढूंढ रही है। उधर वे पटना में रामनवमी के मौके पर रविवार(25 मार्च) को जुलूस में नजर आए। उनका सोशल मीडिया पर तेजी से वीडियो वायरल हो रहा है, जिसमें वे भारत माता की जय और जय श्री राम के नारे लगाते हुए हाथों में तलवार लेकर चल रहे हैं।शिवपुरी मोहल्ले में आयोजित रामनवमी के जुलूस में अपने समर्थकों के साथ अर्जित ने जुलूस में हिस्सा लिया।
वारंट पर अर्जित ने कहा कि मैं न्यायालय की शरण में हूं, मुझे आत्मसमर्पण क्यों करना चाहिए। मैं कहीं गायब नहीं हो गया हूं। समाज के बीच हूं, खोजना उन्हें पड़ता है, जो कहीं गायब होते हैं।

उन्होंने कहा कि अदालत वारंट जारी करती है, लेकिन अदालत, शरण भी देती है। उन्होंने अग्रिम जमानत के लिए याचिका दायर करने की बात कही। उधर केंद्रीय मंत्री अश्विनी चौबे ने बेटे अर्जित शाश्वत चौबे पर दंगा भड़काने के आरोपों पर कहा कि एफआईआर की प्रति महज कचरे का एक टुकड़ा है। भ्रष्ट अधिकारी ने केस दर्ज किया है। बेटे की कोई गलती नहीं है।

गौरतलब है कि भागलपुर में हिंदू नववर्ष के मौके पर बीती 17 मार्च को जुलूस निकलने के दौरान हिंसा हुई थी। दो संप्रदाय आमने-सामने आ गए थे। इस दौरान अराजक तत्वों ने पुलिस पर पथराव भी किया। पुलिस के मुताबिक अर्जित के नेतृत्व में निकले इस जुलूस के लिए प्रशासनिक अनुमति नहीं ली गई थी। हिंसा की घटना के बाद भागलपुर पुलिस ने केंद्रीय मंत्री के पुत्र सहित सभी आरोपियों के खिलाफ केस दर्ज किया था। इसी केस में भागलपुर एसीजेएम ने अर्जित के खिलाफ अरेस्ट वारंट जारी कर दिया है।

पुलिस उन्हें भागलपुर में ढूंढ रही है, मगर वे पटना में सार्वजनिक समारोहों में शिरकत करते नजर आ रहे हैं। उधर इस मसले को लेकर विपक्ष भी केंद्रीय मंत्री अश्वनी चौबे पर हमलावर है। जन अधिकार पार्टी(जाप) के संरक्षक और सांसद राजेश रंजन उर्फ पप्पू यादव ने केंद्रीय मंत्री अश्विनी चौबे के बयान पर पलटवार करते हुए कहा है कि उनका बेटा अर्जित शाश्वत ने भगत सिंह, अशफाक या फिर चंद्रशेखर आजाद जैसा काम तो नहीं किया है, फिर किस बात का गर्व है। पप्पू यादव ने कहा कि अर्जित सहित सभी नामजद आरोपियों की गिरफ्तारी में देरी पर वे राज्यपाल और मुख्यमंत्री से मिलेंगे।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App