बोले उदित राज- ईश्वर की इच्छा होती तो औरत को मुंह-नाक ढके हुए ही पैदा करता

राज इन दिनों अफगानिस्तान-तालिबान मुद्दे को लेकर अपनी तीखी प्रतिक्रिया जाहिर कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि अगर ईश्वर की इच्छा होती कि महिलाओं के मुंह और नाक को ढका जाए तो वह महिलाओं को इसी तरह से पैदा करता।

Udit Raj Burqa
कांग्रेस नेता उदित राज ने जबरन बुर्का पहनने को लेकर अपनी राय व्यक्त की (फाइल फोटो) Source- Indian Express

अफगानिस्तान में तालिबान राज कायम होते ही महिलाओं के खिलाफ अत्याचारों की घटनाओं ने जोर पकड़ लिया। पिछले कुछ दिनों में बंदूकधारी तालिबानियों के द्वारा महिलाओं के साथ क्रूरता के कई मामले सामने आए हैं। इन घटनाओं की निंदा पूरी दुनिया में हो रही है। इसी कड़ी में कांग्रेस प्रवक्ता उदित राज ने भी अपनी राय जाहिर की। उन्होंने लिखा कि अगर ईश्वर की इच्छा होती कि महिलाओं के मुंह और नाक को ढका जाए तो वह महिलाओं को इसी तरह से पैदा करता।

राज इन दिनों अफगानिस्तान-तालिबान मुद्दे को लेकर अपनी तीखी प्रतिक्रिया जाहिर कर रहे हैं। इससे पहले उन्होंने तालिबानियों के इस्लाम पर सवाल उठाते हुए कहा था कि तालिबानी महिलाओं का शोषण करें, उन्हें बुर्के में कैद करके रखें और ड्रग बेचकर पैसा भी कमाए, क्या यही इस्लाम है। राज की ईश्वर वाली टिप्पणी पर लोगों की जमकर प्रतिक्रियाएं आ रही हैं। महज चार घंटे के अंदर 12 सौ से ज्यादा लोगों ने रीट्वीट किया और करीब 3 हजार लोगों ने लाइक किया।

उदित राज के ट्वीट पर आ रहे कमेंट्स में लोगों की मिलीजुली राय देखने को मिल रही है। कई यूजर्स ने उनके ट्वीट का विरोध करते हुए कहा कि ईश्वर ने तो इंसान को बिना कपड़ों के पैदा किया था, फिर लोग कपड़े क्यों पहनते हैं। तो वहीं कुछ लोगों ने उनकी इस राय पर सहमति जताते हुए अफगानिस्तान में महिलाओं पर हो रहे अत्याचारों की निंदा की है।

यह भी पढ़ें: तुम्हारे जैसे लोग हिंदू के नाम पर कलंक हैं – भारत की तुलना तालिबानी महिलाओं से कर ट्रोल हुए कांग्रेस के उदित राज

अफगानिस्तान में महिलाओं को बिना बुर्का पहने घर से बाहर निकलने की अनुमति नहीं: तालिबान राज में आते ही अफगानिस्तान में महिलाओं के अधिकारों को सिमित कर दिया गया है। उन्हें अपने घर से बाहर बिना बुर्के के निकलने की अनुमति नहीं है, साथ ही उनके साथ एक पुरुष का होना जरूरी कर दिया गया है। कई ऐसे मामले भी सामने आए हैं जहां महिलाओं को बुर्का नहीं पहनने के कारण सार्वजनिक तौर पर मौत के घाट उतार दिया गया है।

महिलाएं अपने भविष्य को लेकर आशंकित: तालिबान शासित अफगानिस्तान के हालात इतने बिगड़ चुके हैं लोग अपने बच्चों को सरहद पर लगे तारों के पार दूसरे देशों के सैनिकों को सौंप दे रहे हैं। वह हवाई जहाज के टायरों पर लटककर अपनी जान गंवाने को तैयार हैं। बड़ी संख्या में लोग अफगानिस्तान से बाहर निकलने के लिए बेताब नजर आ रहे हैं। अफगानिस्तान में तालिबान के कब्जे के बाद से ही बुर्के की बिक्री में तेजी देखी जा रही है। महिलाएं और लड़कियां अपने भविष्य को लेकर आशंकित नजर आ रही हैं।

पढें राज्य समाचार (Rajya News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट