ताज़ा खबर
 

भाजपा पर बरसे उद्धव ठाकरे, बोले- गुजरात दंगों के बाद हमने मोदी का साथ दिया लेकिन उन्‍होंने वो समर्थक गंवा दिया

भाजपा अध्यक्ष अमित शाह पर निशाना साधते हुए शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने कहा कि आगामी चुनावी लड़ाई ‘‘दोस्ताना मुकाबला’’ नहीं होगा।

Author मुंबई | February 5, 2017 7:40 AM
uddhav thackeray, shiv sena, BJP, BJP shiv sena, BMC elections 2017, uddhav thackeray BJP, amit shah, uddhav thackeray shiv sena, uddhav thackeray BMC election, mumbai newsभाजपा अध्यक्ष अमित शाह पर निशाना साधते हुए शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने कहा कि आगामी चुनावी लड़ाई ‘‘दोस्ताना मुकाबला’’ नहीं होगा। (Photo:PTI)

भाजपा अध्यक्ष अमित शाह पर निशाना साधते हुए शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने कहा कि आगामी चुनावी लड़ाई ‘‘दोस्ताना मुकाबला’’ नहीं होगा। भाजपा ने एक ऐसा ‘‘कट्टर समर्थक’’ खो दिया है जिसने गुजरात दंगों के बाद भी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का समर्थन किया था। उन्होंने मुंबई में अपनी पहली बीएमसी चुनावी रैली में कहा, ‘‘भाजपा अध्यक्ष ने कहा है कि यह एक दोस्ताना मुकाबला है जबकि राज्य के नेताओं ने इसे ‘‘कौरवों’’ और ‘‘पांडवों’’ के बीच का ‘महाभारत’ बताया है। मैं अमित शाह से कहना चाहता हूं कि अब यह दोस्ताना मुकाबला नहीं है। आपने अपना एक ऐसा कट्टर समर्थक खो दिया है जिसने हमेशा आपका समर्थन किया है। उस समर्थक ने गुजरात दंगों के बाद मोदी का भी समर्थन किया था जबकि उस समय हर कोई उनके खिलाफ था।’’

अमित शाह ने पिछले रविवार को कहा था कि शिवसेना के साथ कोई मतभेद नहीं है और उन्होंने उम्मीद जताई थी कि महाराष्ट्र निकाय चुनावों को स्वतंत्र रूप से लड़ने का इसका फैसला गठबंधन को नुकसान नहीं पहुंचाएगा। गौरतलब है कि शिवसेना और भाजपा के बीच सीटों के बंटवारे के चलते बीएमसी चुनावों के लिए गठबंधन टूट गया था। हालांकि राज्‍य और केंद्र सरकार में वह एनडीए में शामिल है। रोचक बात है कि महाराष्‍ट्र में विधानसभा चुनावों से पहले भी भाजपा और शिवसेना अलग हो गए थे। साथ ही अलग-अलग चुनाव लड़ा था। चुनाव नतीजे आने के बाद शिवसेना ने भाजपा का साथ दिया था।

केंद्र में नरेंद्र मोदी की सरकार बनने के बाद से भाजपा और शिवसेना के बीच कई मुद्दों पर तनातनी रही है। शिवसेना ने अपने मुखपत्र ‘सामना’ के जरिए कई बार मोदी सरकार पर करारे हमले बोले हैं। उसने राम मंदिर, पाकिस्‍तान से रिश्‍तों सहित कई मसलों पर भाजपा को निशाना बनाया है। पिछले दिनों महाराष्‍ट्र में मंदिरों कों हटाने के मुद्दे पर तो शिवसेना ने देवेंद्र फड़णवीस सरकार को मुगलों की सरकार तक बता दिया था।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 व्हीलचेयर पर चलने वाले शख्स ने दिव्यांगों के लिए बनाई अनोखी तकनीक, बिना पैर का यूज किए चलेगी कार
2 भंसाली मुद्दे पर राजपूतों के पक्ष में पार्टियां, आप ने मिनटों में बदला पाला तो कांग्रेस ने कहा- नाराज नहीं कर सकते
3 जिस चीनी शख्स ने भारत के खिलाफ लड़ा 1962 का युद्ध, अब वही मांग रहा पीएम नरेंद्र मोदी से मदद
ये पढ़ा क्या ?
X