scorecardresearch

जब जूते पड़ेंगे तब याद आएगा हमारा प्यारा हिंदुस्तान- उदयपुर की घटना पर बोले तारिक फतेह; शोएब जमई ने सुप्रीम कोर्ट की दिलाई याद

उदयपुर मर्डर केस में राजस्थान के गृह राज्यमंत्री राजेंद्र यादव ने बड़ा खुलासा करते हुए कहा था कि कन्हैयालाल के कातिल गौस मोहम्मद ने पाकिस्तान में ट्रेनिंग ली थी। नेपाल और अरब देशों से भी गौस के कनेक्शन बताए जा रहे हैं।

Tariq Fateh, Islam, Indian Muslims
तारिक फतेह (फोटो सोर्स- पीटीआई)

राजस्थान के उदयपुर में मंगलवार (28 जून 2022) को नूपुर शर्मा के समर्थन में एक पोस्ट की वजह से कन्हैया लाल नाम के एक टेलर की हत्या कर दी गयी थी। आरोपियों ने कन्हैया लाल की गर्दन को धारदार हथियार से काट डाला था। हत्यारों ने हत्या का वीडियो रिकॉर्ड किया था और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को भी धमकी दी थी। इस मुद्दे पर एक न्यूज़ चैनल आजतक पर एक टीवी डिबेट के दौरान लेखक तारिक फतेह ने कहा कि जब जूते पड़ेंगे तब याद आएगा हमारा प्यारा हिंदुस्तान।

तारिक फतेह ने कहा, “आप देवबंद को बंद करेंगे, मदरसों को स्टेट कंट्रोल में लाएंगे और मौलवियों को एजुकेटर बंद करेंगे तब जाकर ये रास्ते पर आएंगे। तब जाकर वो मुसलमान निकलेगा जो हिंदुस्तानी पहले और मुसलमान बाद में होगा।” उन्होंने आगे कहा, “आपको किसी ने नहीं रोका अफगानिस्तान, सऊदी जाने से जब वहां जूते पड़ेंगे तब जाकर याद आएगा हमारा प्यारा हिंदुस्तान।”

ये तबाह करेगा हिंदुस्तान को: उदयपुर की घटना पर बोलते हुए तारिक फतेह ने कहा, “देश के मदरसों के अंदर जो किताबें चलती हैं उसमें बच्चों को बताया जाता है कि तुम एक अलग कौम हो और हिंदुओं, यहूदियों से तुम्हें किस तरह अलग रहना पड़ेगा और ये काफिर हैं।” उन्होंने कहा कि आप के मुल्क के अंदर आप खुद पानी दे रहे हो उन पौधों को जो तबाह करेगा हिंदुस्तान को।

यहां झूठ फैलाने की भी इजाजत: लेखक ने कहा, इस्लामिज़्म इस्लाम को एक सियासी टूल की तरह इस्तेमाल करना है। उसको ढाल बनाकर, उसके पीछे छुपकर आप दूसरे पर वार करें। ये वो इस्लाम नहीं है जिसके अंदर आप पड़ोसी का कचरा साफ करते हैं। यहां झूठ फैलाने की भी इजाजत है।” उन्होंने आगे कहा, “इसमें सिखाया जाता है कि जिन लोगों की सभ्यता हजारों साल पुरानी है, जिनके हजारों देवी-देवता हैं उनका मज़ाक बनाओ।”

हत्याकांड को अंजाम देने वाले ब्रेनवाश्ड लोग: वहीं, दूसरी ओर IMF अध्यक्ष शोएब जमई ने कहा, “ट्विटर पर आज ट्रेंड चल रहा है सुप्रीम कोर्ट शरिया कोर्ट हो गया है, ये कौन लोग चला रहे हैं? ये वो लोग हैं जो कोर्ट का सम्मान नहीं करते हैं सिर्फ इसलिए क्योंकि सुप्रीम कोर्ट ने नूपुर शर्मा को फटकार लगाई है।” उन्होंने आगे कहा, “उदयपुर की घटना को अंजाम देने वाले वहशी लोग हैं। सर तन से जुदा करने वाली फिलॉसफी की इस देश में कोई जगह नहीं है। ये ब्रेनवाश्ड लोग हैं जिनके बारे में हमारे देश की इंटेलिजेंस को पता करना है।”

पढें राज्य (Rajya News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

अपडेट

X