scorecardresearch

Udaipur Murder: कन्हैया लाल के बेटे ने सीएम से मांगी सुरक्षा, गहलोत के मंत्री का बड़ा खुलासा, बोले- एक अपराधी 45 दिन कराची रहकर आया

मोहम्मद रियाज अख्तरी और गौस मोहम्मद नाम के दो मुस्लिम युवकों ने कन्हैया लाल की हत्या के पूरे घटना क्रम का वीडियो बनाकर सोशल मीडिया पर शेयर कर दिया था। दोनों आरोपियों के पाकिस्तान के कट्टरपंथी धार्मिक समूह दावत-ए-इस्लामी से कनेक्शन सामने आए हैं।

Rajasthan | udaipur | kanhaiya lal
टेलर कन्हैया लाल की हत्या करने वाले आरोपी। ( फोटो सोर्स: @AskAnshul)।

उदयपुर मर्डर केस में राजस्थान के गृह राज्यमंत्री राजेंद्र यादव ने बड़ा खुलासा किया है। उनका कहना है कि कन्हैया के कातिल गौस मोहम्मद ने पाकिस्तान में ट्रेनिंग ली थी। नेपाल और अरब देशों से भी गौस के कनेक्शन बताए जा रहे हैं। वहीं, दूसरी ओर कन्हैया लाल के बेटे ने सीएम अशोक गहलोत से सुरक्षा की मांग की है।

राजेंद्र यादव के मुताबिक कन्हैया लाल की हत्या में शामिल गौस मोहम्मद ने पाकिस्तान के कराची में ट्रेनिंग ली थी। उन्होंने कहा कि ये आतंकवाद का सीधा अटैक है। इनमें से एक अपराधी 2014-15 में 45 दिन पाकिस्तान के कराची में रहकर आया था। जिसके बाद वो 2018-19 में अरब देशों की यात्रा पर गया था और नेपाल का भी दौरा किया है। राजेंद्र यादव ने ये भी कहा कि अपराधी लगातार 8-10 पाकिस्तानी नंबरों पर टच में था।

कन्हैया लाल के बेटे ने मांगी सुरक्षा: वहीं, दूसरी ओर कन्हैया लाल के बेटे यश ने कहा कि हमने सुरक्षा की मांग की है। उन्होंने कहा, “मेरे पिता को सुरक्षा नहीं दी गई लेकिन हमें मुहैया कराया जाना चाहिए। हमें इसका आश्वासन दिया गया है। यश ने कहा कि दोषियों को मौत की सजा से कम कुछ नहीं दिया जाना चाहिए।”

आरोपियों को विशेष NIA अदालत में पेश किया जाएगा: इससे पहले मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने भी ट्वीट कर कहा था कि ऐसा हो नहीं सकता कि इसका कोई अंतर्राष्ट्रीय या राष्ट्रीय स्तर पर कुछ कनेक्शन ना हो। घटना को गंभीरता से लेते हुए एआईए जांच में जुट गई है, राज्य सरकार की जांच एजेंसियां भी एनआईए का पूरा सहयोग करेंगी। NIA ने गुरुवार को कहा कि उदयपुर में कन्हैया लाल की निर्मम हत्या के आरोपी रियाज अख्तरी और गौस मोहम्मद को आज या कल शाम 5 बजे तक जयपुर की विशेष NIA अदालत में पेश किया जाएगा। उनसे राजस्थान में ही पूछताछ की जाएगी और दिल्ली नहीं लाया जाएगा।

राजस्थान के उदयपुर में नूपुर शर्मा के समर्थन में एक पोस्ट की वजह से कन्हैया लाल नाम के एक टेलर की हत्या कर दी गयी थी। आरोपियों ने कन्हैया लाल की गर्दन को धारदार हथियार से काट डाला था। बताया जा रहा है कि कन्हैया लाल के मोबाइल से कुछ ग्रुप में वॉट्सऐप पोस्ट को फॉर्वर्ड किया गया था, जिससे नाराज होकर कट्टरपंथियों ने उसकी निर्मम हत्या कर दी। हत्यारों ने हत्या का वीडियो रिकॉर्ड किया था और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को भी धमकी दी थी।

पढें राज्य (Rajya News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

अपडेट